सर सैयद नगर स्थित एक अपार्टमेंट में किराए पर कमरा लेने आए थाईलैंड के छात्रों को देखकर वहां खेल रहे बच्चों ने कोरोना- कोरोना कहकर चिल्लाना शुरू कर दिया। यह सुनते ही थाईलैंड के छात्र वहां से चले गए।कोरोना वायरस का दहशत इन दिनों लोगों में काफी है। इसका असर सर सैयद नगर के एक अपार्टमेंट में देखने को मिला। शाम करीब पांच बजे थाईलैंड के पांच छात्र अपार्टमेंट में कमरा किराए पर लेने आए थे, तभी वहां पर खेल रहे बच्चे दहशत में आ गए और वह कोरोना-कोरोना कहकर चिल्लाने लगे। यह सुनकर दो छात्र घबराकर चले गए। इसी दौरान आगा जेहरा ने बच्चे को समझाकर थाईलैंड के छात्रों से बातचीत की और कमरा खाली न होने की जानकारी दी। इसके बाद शेष छात्र भी चले गए।  

उधर, लॉकडाउन को प्रभावी बनाने को तीसरे दिन मंगलवार को प्रशासनिक अमला दिन भर सड़कों पर रहा। बेवजह घूमने फिरने वाले हर व्यक्ति को रोका टोका गया। चौराहों पर पुलिस बेरिकेटिंग पर वाहन चालकों की चेकिंग की गई। घर से बाहर निकलने का कारण पूछा गया। काम होने पर ही उन्हें जाने दिया। बेवजह घूमने वालों को फटकार लगाते हुए घरों को वापस भेजा गया।

एडीएम सिटी राकेश कुमार मालपाणी, एसपी सिटी अभिषेक ने सारसौल चौराहा से लेकर जीटी रोड, पुराने शहर, सिविल लाइंस, क्वार्सी आदि इलाकों को भ्रमण किया। लॉकडाउन को प्रभावी बनाने की ड्यूटी में लगे सभी मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी को औचक तौर पर चेक किया। इसके साथ ही सड़कों पर घूम रहे लोगों को घरों में ही रहने की चेतावनी दी।

सिटी मजिस्ट्रेट विनीत कुमार सिंह व सीओ प्रथम विशाल पांडेय ने सब्जी मंडी चौराहा, ऊपरकोट, देहली गेट आदि इलाकों का भ्रमण किया। एएसडीएम कोल प्रवीण यादव और फूड सेफ्टी अधिकारी राघवेंद्र सिंह, ने केला नगर, क्वार्सी चौराहा, रामघाट रोड का जायजा लिया। रामघाट रोड पर अनावश्यक खुलीं दुकानों को तत्काल बंद कराने के साथ-साथ एक कॉमर्शियल वाहन को थाने में भेजने की कार्रवाई की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here