अमांपुर में बाहर से पैदल आये लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण के बाद भोजन कराया।

88
  • अलीगढ से पैदल लक्षिमपुर जा रहे मजदूरों को मिली राहत, व्यापारियों ने निभाया मानव धर्म
  • अमांपुर । कोरोना महामारी को लेकर जहां पूरे देश में लॉक डाउन है। ऐसे में सबसे ज्यादा परेशान दिहाड़ी मजदूर हैं। ये दिहाड़ी मजदूर बाहरी क्षेत्रों से अपने घरों की तरफ जाने के लिए पैदल सैकडों किलोमीटर की दूरी तय कर रहे हैं।

अलीगढ से पैदल लक्षिमपुर जा रहे मजदूरों को मिली राहत, व्यापारियों ने निभाया मानव धर्म

अमांपुर । कोरोना महामारी को लेकर जहां पूरे देश में लॉक डाउन है। ऐसे में सबसे ज्यादा परेशान दिहाड़ी मजदूर हैं। ये दिहाड़ी मजदूर बाहरी क्षेत्रों से अपने घरों की तरफ जाने के लिए पैदल सैकडों किलोमीटर की दूरी तय कर रहे हैं। लेकिन इनके पास न तो खाने के लिए कुछ है और न ही पीने का पानी। भूखे प्यासे मजदूरों का दस्ता जब अमांपुर तिराहे पर पहुंचा तो कस्बा ईचार्ज ओमबाबू, एसआई विक्रम सिंह यादव और कस्बे के व्यापारी कुसुमवीर यादव, आकाश गुप्ता सर्राफ, श्रीकृष्ण गौतम, भूपेंद्र शाक्य, उनके लिए किसी फ़रिश्ता की तरह सामने आये। दरअसल तिराहे पर एसआई विक्रम सिंह यादव रोज की तरह ड्यूटी पर तैनात थे। वे कोरोना वायरस को लेकर जारी लाॅकडाउन में तिराहे पर तैनात थे। इसी दौरान कासगंज रोड पर कुछ महिला-पुरुष बच्चों को लेकर भूखे प्यासे पैदल आ रहे थे। एसआई विक्रम सिंह ने इन लोगों को रोककर इनसे पूछताछ की तो उन्होंने खाली पेट पैदल चलने की बात बताई। उनका स्वास्थ्य परीक्षण प्रथामिक स्वास्थ्य केंद्र पर कराया गया। तत्पश्चात उनको भोजन कराकर उन्हे घर भेजने की व्यवस्था की।