एटा। जिला कारागार अधीक्षक अपने निजी व्यय से हर रोज 200 लोगों को भोजन बांटेंगे।

90
एटा। जिला कारागार अधीक्षक अपने निजी व्यय से हर रोज 200 लोगों को भोजन बांटेंगे।

यह सिलसिला 14 अप्रैल तक चलता रहेगा। गरीबों को भोजन की कोई कमी नहीं होने देने का भी वादा किया गया है।जेल अधीक्षक पीपी सिंह ने लॉकडाउन के दौरान हर रोज 200 लोगों के लिए भोजन व्यवस्था बनाने का दृढ़ संकल्प लिया है।

एटा। जिला कारागार अधीक्षक अपने निजी व्यय से हर रोज 200 लोगों को भोजन बांटेंगे। यह सिलसिला 14 अप्रैल तक चलता रहेगा। गरीबों को भोजन की कोई कमी नहीं होने देने का भी वादा किया गया है।जेल अधीक्षक पीपी सिंह ने लॉकडाउन के दौरान हर रोज 200 लोगों के लिए भोजन व्यवस्था बनाने का दृढ़ संकल्प लिया है। बृहस्पतिवार से सुबह-शाम भोजन वितरण करने का सिलसिला शुरू कर दिया गया है। भोजन व्यवस्थाएं में किसी का सहारा नहीं लिया गया है। उन्होंने बताया है कि 200 लोगों का प्रतिदिन भोजन बनाने का कार्य 14 अप्रैल तक चलता रहेगा। अगर किसी को गरीब के भूखे रहने की जानकारी मिलती है तो वह जिला कारगार पर अथवा सरकारी नंबर पर कॉल करके बता सकते हैं।