जिलाधिकारी ने नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर निःशुल्क खाद्यान्न वितरण और सामुदायिक किचिन की व्यवस्थाओं को चैक किया।

63
जिलाधिकारी ने नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर निःशुल्क खाद्यान्न वितरण और
  • लाॅक डाउन का पूर्ण पालन हो, कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे-डीएम कासगंज: कोरोना वायरस की रोकथाम और बचाव के लिये लागू लाॅक डाउन को पूर्ण सफल बनाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह व पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने जनपद के विभिन्न स्थानों का भ्रमण कर गरीबों को निःशुल्क खाद्यान्न वितरण, गरीबों को भोजन के पैकेट वितरित कराने के लिये सामुदायिक किचिन तथा लाॅक डाउन के दौरान जनपद में की गई व्यवस्थाओं का मौके पर जायजा लिया और लोगों से आह्वान किया

लाॅक डाउन का पूर्ण पालन हो, कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे-डीएम

कासगंज: कोरोना वायरस की रोकथाम और बचाव के लिये लागू लाॅक डाउन को पूर्ण सफल बनाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह व पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने जनपद के विभिन्न स्थानों का भ्रमण कर गरीबों को निःशुल्क खाद्यान्न वितरण, गरीबों को भोजन के पैकेट वितरित कराने के लिये सामुदायिक किचिन तथा लाॅक डाउन के दौरान जनपद में की गई व्यवस्थाओं का मौके पर जायजा लिया और लोगों से आह्वान किया कि अपने घरों पर ही रहें, बाहर न निकलें। कोरोना वायरस से खुद भी बचें और सबको भी बचाने में शासन, प्रशासन का सहयोग करें। अन्य लोगों से सामाजिक दूरी बनाये रखें।
जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने आज कासगंज नगर, सहावर नगर पंचायत, ग्राम म्यासुर, बाज नगर, ग्राम मुजफ्फर नगर, नगरिया आदि नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर निःशुल्क खाद्यान्न वितरण की व्यवस्थाओं को मौके पर देखा तथा वितरित किये जा रहे खाद्यान्न को अपने सामने तुलवा कर चैक किया। जनपद के कुल 02 लाख, 52 हजार कार्डधारकों में से दैनिक कार्य कर अपने परिवार का भरण पोषण करने वाले दिहाड़ी मजदूर, पंजीकृत श्रमिक, मनरेगा मजदूर, गरीब, असहाय एवं निर्बल वर्ग के कुल 01 लाख, 03 हजार पात्र व्यक्तियों को 01 अप्रैल से निरंतर निःशुल्क खाद्यान्न वितरण कराया जा रहा है।
जिलाधिकारी ने गरीबों को भोजन के निःशुल्क पैकेट वितरित कराने के लिये जगह जगह संचालित सामुदायिक किचिन को भी मौके पर चैक किया और आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने लाॅक डाउन की दौरान की जा रही व्यवस्थाओं को मौके पर देखा एवं जनपद के गरीब, असहाय, निर्बल एवं रोजाना कमाने खाने वाले लोगों के भोजन एवं आवश्यक सामान की आपूर्ति आदि व्यवस्थाओं की जानकारी प्राप्त की।
जिलाधिकारी ने शैल्टर होम मे ठहरे हुये लोगों की जानकारी प्राप्त की और कहा कि बाहर से आये लोगों का अनिवार्यरूप से चैकअप किया जाये तथा इनके ठहराने और भोजन की पूर्ण व्यवस्था की जाये। कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे। जो लोग बाहर से आयें उनका नाम, पता और मोबाइल नम्बर नोट कर सूची बना ली जाये। बाहरी लोगों की स्क्रीनिंग करते हुये उन्हें क्वारंटाइन किया जाये।