मुंबई शहर में कोरोना वायरस की दस्तक ने जहा एक तरफ लोगो को उनके घरो में बैठने पर मजबूर कर दिया और मजदूर,

109
मुंबई शहर में कोरोना वायरस
  • जी हां! हम बात कर रहे हैं अनफाल फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट की जिन्होंने मुम्बई शहर और उसके आसपास के इलाक़ो में लॉकडाउन से मुसीबत में फसे लोगो के लिए राशन का इंतेज़ाम किया।

मुंबई शहर में कोरोना वायरस की दस्तक ने जहा एक तरफ लोगो को उनके घरो में बैठने पर मजबूर कर दिया और मजदूर, बेघर और रोज़ का काम करने वालो को अपना घर चलाने की चिंता में डाल दिया; वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी लोग थे जिन्हीने इन मज़दूरों और बेसहारा लोगो को सहारा देने में अपना सबकुछ लगा दिया।

जी हां! हम बात कर रहे हैं अनफाल फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट की जिन्होंने मुम्बई शहर और उसके आसपास के इलाक़ो में लॉकडाउन से मुसीबत में फसे लोगो के लिए राशन का इंतेज़ाम किया।

अनफाल फाउंडेशन ने वाशी के ए. पी. एम. सी. मार्किट से लोगो के लिए राशन की खरीदी कर के उसे मुम्बई के 29 इलाक़ो में लोगो के घरो तक पहुंचाया जिसमे गोवंडी, मुम्ब्रा, नवी मुम्बई, ऑनटॉप हिल, पालघर, नालासोपारा जैसे कई इलाके शामिल है।

ज़मीनी सतह पर काम करने वाले कार्यकताओ ने गरीब जनता को जब राशन पहुचाया तो उस वक़्त उनके लिए एक उम्मीद जगी और उन्हें सहारा मिला।

अनफाल फाउंडेशन के ज़िम्मेदार मोहम्मद अब्बास (रिज़वान) ने बताया की लॉक डाउन के समय में उनकी टीम ने लगभग 3000 परिवारों तक राशन पहुंचाया जिसमे 1 लाख किलो तक का शामिल है। उन्होंने बताया की अनफाल फाउंडेशन के कार्यकर्ता सभी 29 इलाक़ो में भरपूर काम रहे है ताकि इस लॉक डाउन से किसी भी गरीब परिवार को कोई तकलीफ नही पैहुँचे। इस मुहिम में शामिल 340 कार्यकर्ताओ का ज़िम्मेदारों ने बहुत धन्यवाद किया।

इस पहल में अनफाल फाउंडेशन ने बिना किसी फर्क के सभी धर्मो और पंथो के लोगो तक अपनी सहायता पहुंचाई।

सय्यद नेहाल हसन रीपोर्टर मुंबई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here