7 मई तक चलेगी लाइव क्लास , जो छात्र लाइव कार्यक्रम से जुड़े नहीं है बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं

56
7 मई तक चलेगी लाइव क्लास

कोरोना वायरस का असर पूरे विश्व पर पड़ा है। क्या इससे कॅरियर में कुछ बदलाव आयेगा। कोरोना वायरस के कारण किस-किस सेक्टर में कॅरियर की संभावना अधिक होगी। उन कॅरियर की जानकारी दे जिसकी मांग कोरोना वायरस के कारण बढ़ा हो। ये तमाम प्रश्न यू-ट्यूब पर लाइव कॅरियर क्लास के दौरान छात्रों द्वारा पूछे गए।

कॅरियर विशेषज्ञ आयुष बंसल ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण कई कॅरियर का विकल्प बढ़ेगा। इसमें ऑटोमेशन, मेडिकल साइंस में रिसर्च में कई विकल्प खुलेंगे। इसके अलावा डाटा साइंटिफिक में कॅरियर बढ़ेगा। क्योंकि अब सारा कुछ डिजिटल होता जा रहा है। ऐसे में एनालाइसिस अब साइंटिफिक तरीके से होगा। इसके साथ सोशल साइंटिफिक, एजुकेशन टेक्नोलॉजी और मनोचिकित्सक आदि के क्षेत्र में कॅरियर का विकल्प बढ़ेगा। गुरुवार को ये सवाल और जवाब यू-ट्यूब पर लाइव कॅरियर क्लास में चल रहा था। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा यूनिसेफ की मदद से इसकी शुरुआत नौ अप्रैल से की गयी है। एक घंटे तक चलने वाले इस लाइव क्लास में दो हजार से अधिक छात्र और छात्राएं जुड़ीं। 140 विद्यार्थियों ने लाइव चैट पर अपने प्रश्न रखे। वहीं 35 से 40 प्रश्नों का जवाब एक्सपर्ट आयुष बंसल ने दिये।

जो नहीं जुड़े, उनके लिए वीडियो अपलोड एक घंटे के इस क्लास का वीडियो भी बनाया गया है। जो छात्र इस लाइव कार्यक्रम से जुड़ नहीं सके, वो वीडियो बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं। कार्यक्रम के पहले दिन 550 कॅरियर की जानकारी दी गयी। कॅरियर के अलावा कॉलेज, प्रवेश परीक्षा और छात्रवृत्ति के बारे में बताया गया। ज्ञात हो कि बिहार कॅरियर पोर्टल पर 550 कॅरियर, 6400 सौ कॉलेज, 930 छात्रवृत्ति के अलावा 13 देश के दो लाख से अधिक कोर्स की जानकारी मौजूद हैं।

नौ अप्रैल से इसे शुरू किया गया है। लॉकडाउन में बच्चों के पास अपने कॅरियर को लेकर सोचने का लंबा समय है। ऐसे में उन्हें सही मार्गदर्शन मिले, इसके लिए यह शुरू किया गया है। यह हर गुरुवार को चलेगा। बिहार कॅरियर पोर्टल पर इसकी पूरी जानकारी डाली गयी है। – किरण कुमारी, राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी

सात मई तक चलेगी लाइव क्लास : लॉकडाउन में बच्चों को कॅरियर चयन में मदद मिले। इसके लिए यह शुरू किया गया है। यूनिसेफ की शिक्षा विशेषज्ञ प्रमिला मनोहरण ने बताया कि नौ अप्रैल से इसे शुरू किया गया है। पहले दिन 550 कॅरियर की जानकारी दी गयी। हर सप्ताह यह चार से पांच बजे तक चलेगा। 16 अप्रैल को बोर्ड परीक्षा के बाद कौन-कौन से कोर्स के विकल्प हैं, जिससे कॅरियर अच्छा मिले। इसपर एक घंटे का सेशन चलेगा। इसमें 10वीं और 12वी बोर्ड के छात्र शामिल हो सकेंगे। विद्यार्थियों ने लाइव चैट पर अपने प्रश्न रखे

कोरोना वायरस का असर पूरे विश्व पर पड़ा है। क्या इससे कॅरियर में कुछ बदलाव आयेगा। कोरोना वायरस के कारण किस-किस सेक्टर में कॅरियर की संभावना अधिक होगी। उन कॅरियर की जानकारी दे जिसकी मांग कोरोना वायरस के कारण बढ़ा हो। ये तमाम प्रश्न यू-ट्यूब पर लाइव कॅरियर क्लास के दौरान छात्रों द्वारा पूछे गए।

कॅरियर विशेषज्ञ आयुष बंसल ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण कई कॅरियर का विकल्प बढ़ेगा। इसमें ऑटोमेशन, मेडिकल साइंस में रिसर्च में कई विकल्प खुलेंगे। इसके अलावा डाटा साइंटिफिक में कॅरियर बढ़ेगा। क्योंकि अब सारा कुछ डिजिटल होता जा रहा है। ऐसे में एनालाइसिस अब साइंटिफिक तरीके से होगा। इसके साथ सोशल साइंटिफिक, एजुकेशन टेक्नोलॉजी और मनोचिकित्सक आदि के क्षेत्र में कॅरियर का विकल्प बढ़ेगा। गुरुवार को ये सवाल और जवाब यू-ट्यूब पर लाइव कॅरियर क्लास में चल रहा था। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा यूनिसेफ की मदद से इसकी शुरुआत नौ अप्रैल से की गयी है। एक घंटे तक चलने वाले इस लाइव क्लास में दो हजार से अधिक छात्र और छात्राएं जुड़ीं। 140 विद्यार्थियों ने लाइव चैट पर अपने प्रश्न रखे। वहीं 35 से 40 प्रश्नों का जवाब एक्सपर्ट आयुष बंसल ने दिये।

सात मई तक चलेगी लाइव क्लास: लॉकडाउन में बच्चों को कॅरियर चयन में मदद मिले। इसके लिए यह शुरू किया गया है। यूनिसेफ की शिक्षा विशेषज्ञ प्रमिला मनोहरण ने बताया कि नौ अप्रैल से इसे शुरू किया गया है। पहले दिन 550 कॅरियर की जानकारी दी गयी। हर सप्ताह यह चार से पांच बजे तक चलेगा। 16 अप्रैल को बोर्ड परीक्षा के बाद कौन-कौन से कोर्स के विकल्प हैं, जिससे कॅरियर अच्छा मिले। इसपर एक घंटे का सेशन चलेगा। इसमें 10वीं और 12वी बोर्ड के छात्र शामिल हो सकेंगे।

जो नहीं जुड़े, उनके लिए वीडियो अपलोड: एक घंटे के इस क्लास का वीडियो भी बनाया गया है। जो छात्र इस लाइव कार्यक्रम से जुड़ नहीं सके, वो वीडियो बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं। कार्यक्रम के पहले दिन 550 कॅरियर की जानकारी दी गयी। कॅरियर के अलावा कॉलेज, प्रवेश परीक्षा और छात्रवृत्ति के बारे में बताया गया। ज्ञात हो कि बिहार कॅरियर पोर्टल पर 550 कॅरियर, 6400 सौ कॉलेज, 930 छात्रवृत्ति के अलावा 13 देश के दो लाख से अधिक कोर्स की जानकारी मौजूद हैं।

नौ अप्रैल से इसे शुरू किया गया है। लॉकडाउन में बच्चों के पास अपने कॅरियर को लेकर सोचने का लंबा समय है। ऐसे में उन्हें सही मार्गदर्शन मिले, इसके लिए यह शुरू किया गया है। यह हर गुरुवार को चलेगा। बिहार कॅरियर पोर्टल पर इसकी पूरी जानकारी डाली गयी है। – किरण कुमारी, राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी विद्यार्थियों ने लाइव चैट पर अपने प्रश्न रखे

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here