चंबा- जिला चंबा के उपमंडल सलूणी की ग्राम पंचायत स्नूह के भांदल गांव में स्थित एक तीन मंजिला मकान में शनिवार सुबह अचानक आग लगने से मकान पूरी तरह से जलकर राख हो गया।

42
चंबा- जिला चंबा के उपमंडल सलूणी
  • जिसमें रह रहे तीन परिवारों सुरेंद्र कुमार,मान सिंह व देस राज को लाखों का नुकसान हुआ है।मकान में आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। आग लगने की सूचना मिलते ही एसडीएम सलूणी विजय कुमार धीमान व डीएसपी सलूणी राम करन राणा भी मौके पर पहुंचे।जानकारी अनुसार शनिवार सुबह मकान की सबसे ऊपरी मंजिल से अचानक धुआं उठने के साथ आग की लपटें निकलने लगी। जिसे देख परिवार के सदस्यों व पड़ोसियों ने शोर मचाया और लोगों ने देर न करते हुए आग बुझाने के साथ ही सलूणी मुख्यालय से अग्निशमन विभाग की गाड़ी भी मौके पर पहुंच गई और आग पर काबू पाने के प्रयास तेज किए मगर अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों को आग पर काबू पाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। लेकिन, तब तक मकान जलकर राख हो गया था।

बताया जा रहा है कि मकान निर्माण में अधिकतर लकड़ी का इस्तेमाल किया गया था, जिस कारण आग लगने पर उस पर काबू पाना काफी मुश्किल हो गया था। गनीमत यह रही कि मकान सड़क के समीप था जिस कारण आग पर जल्द काबू पा लिया गया।यदि आग पर काबू न पाया जाता तो इससे साथ लगते मकान भी इसकी चपेट में आ सकते थे।उधर, एसडीएम सलूणी विजय कुमार धीमान ने कहा कि मकान में आग लगने के बारे में सूचना मिलते ही स्वयं डीएसपी सलूणी राम कर्ण राणा के साथ मौके पर पहुंच गए और प्रभावित तीनों परिवारों को दस-दस हजार नकद व तीस-तीस हजार के चैक दे दिए गए हैं। आग से हुए नुकसान की रिपोर्ट तैयार करवाई जा रही।

चंबा- जिला चंबा के उपमंडल सलूणी की ग्राम पंचायत स्नूह के भांदल गांव में स्थित एक तीन मंजिला मकान में शनिवार सुबह अचानक आग लगने से मकान पूरी तरह से जलकर राख हो गया।जिसमें रह रहे तीन परिवारों सुरेंद्र कुमार,मान सिंह व देस राज को लाखों का नुकसान हुआ है।मकान में आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। आग लगने की सूचना मिलते ही एसडीएम सलूणी विजय कुमार धीमान व डीएसपी सलूणी राम करन राणा भी मौके पर पहुंचे।जानकारी अनुसार शनिवार सुबह मकान की सबसे ऊपरी मंजिल से अचानक धुआं उठने के साथ आग की लपटें निकलने लगी। जिसे देख परिवार के सदस्यों व पड़ोसियों ने शोर मचाया और लोगों ने देर न करते हुए आग बुझाने के साथ ही सलूणी मुख्यालय से अग्निशमन विभाग की गाड़ी भी मौके पर पहुंच गई और आग पर काबू पाने के प्रयास तेज किए मगर अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों को आग पर काबू पाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। लेकिन, तब तक मकान जलकर राख हो गया था।
बताया जा रहा है कि मकान निर्माण में अधिकतर लकड़ी का इस्तेमाल किया गया था, जिस कारण आग लगने पर उस पर काबू पाना काफी मुश्किल हो गया था। गनीमत यह रही कि मकान सड़क के समीप था जिस कारण आग पर जल्द काबू पा लिया गया।यदि आग पर काबू न पाया जाता तो इससे साथ लगते मकान भी इसकी चपेट में आ सकते थे।उधर, एसडीएम सलूणी विजय कुमार धीमान ने कहा कि मकान में आग लगने के बारे में सूचना मिलते ही स्वयं डीएसपी सलूणी राम कर्ण राणा के साथ मौके पर पहुंच गए और प्रभावित तीनों परिवारों को दस-दस हजार नकद व तीस-तीस हजार के चैक दे दिए गए हैं। आग से हुए नुकसान की रिपोर्ट तैयार करवाई जा रही।

रिपोर्टर अनवर हुसैन हिमाचल प्रदेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here