लॉकडाउन में हाईटेक तो हुआ जमाना पर शरारती तत्व  समाजसेवी व हाई प्रोफाइल लोगों की आई डी हैक करने लगे अमित सिंगला वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष का 10 वर्ष पुराना फेसबुक आई डी व पेज हैक

82
लॉकडाउन में हाईटेक तो हुआ जमाना
  • देवभूमि में लॉकडाउन व कर्फ्यू के कई प्रभाव सामने आने लगे हैं। कम लोगों के साथ बैठकें करने के लिए बिना किसी खर्च और बिना समय गंवाए अब प्रदेश स्तरीय बैठकों से लेकर मंडल तक की बैठकें तुरंत सूचना देने के बाद बिना खर्च के हो रही हैं। राजनीतिक या अन्य बैठकें ही नहीं, छात्रों की पढ़ाई और लेन देन में भी पूर्व में जो लोग ऑनलाइन प्रक्रिया को अपनाने से कतराते थे, अब वे भी लाइन पर आने लगे हैं। परंतु इसके दुष्परिणाम भी देखने को मिले हैं। घर बैठे शरारती तत्व समाजसेवी व हाई प्रोफाइल लोगो की आई डी व पेज हैक करने मे लग गए हैं ताकि पे टीएम व अन्य माध्यमों से बड़े लोगों को ब्लैकमेल कर बदनाम किया जा सके व कुछ फायदा लिया जा सके। ऐसा ही मामला गत दिवस देखने को मिला जब बीबीएन स्तिथ समाजसेवी संस्था अमित सिंगला वेलफेयर सोसाइटी के प्रधान सुमित सिंगला एस पी आफिस अपनी आपबीती सुनाने पहुंचे। सिंगला ने लिखित शिकायत दे अपना 10 वर्ष से चल रहे फेसबुक अकाउंट बारे पुलिस आई टी सेल को अवगत कराया।

आई टी सेल मे तैनात इंस्पेक्टर हेमंत कुमार ने तुरंत इस पर करवाई कर एस पी के आदेशानुसार साइबर कानून के तहत फेसबुक के मुख्य कार्यालय यू एस ए को मेल कर आई डी होल्ड करवाई। भले ही शुरुआत में बदले जमाने की ऑनलाइन तकनीक आसान प्रतीत होती हो, लेकिन लॉकडाउन ने लोगों के लिए इसे आसान होने के साथ खतरनाक भी बना दिया है। समाजसेवी व बिजनेस से जुड़ी कंपनियों के लोग व हाई प्रोफाइल  अब तक तकनीक से दूर रहने वाले लोगों ने तकनीक की ओर कदम पीछे करने शुरु किये हैं। ऑनलाइन काम तो हो रहा है व कर्फ्यू में घर बैठ लोग अपना समय बिता रहे हैं परंतु शरारती तत्व इसे अपनी कमाई का साधन बना ब्लैकमेलिंग करने मे लगे हैं। एस पी बददी रोहित मालपाणी ने बताया फेसबुक आई डी हैक होने की शिकायतें आई हैं जिस पर आई टी सेल जांच कर रहा है।उन्होंने चेताया है कि लॉक डाउन के कारण डिटेक्ट किये हैकरों पर करवाई की जाएगी, असामाजिक तत्व ऐसी हरकतें छोड़ें अन्यथा साइबर क्राइम लॉ के तहत शीघ्र करवाई की जाएगी।

लॉकडाउन में हाईटेक तो हुआ जमाना पर

शरारती तत्व  समाजसेवी व हाई प्रोफाइल लोगों की आई डी हैक करने लगे

अमित सिंगला वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष का 10 वर्ष पुराना फेसबुक आई डी व पेज हैक

    – देवभूमि में लॉकडाउन व कर्फ्यू के कई प्रभाव सामने आने लगे हैं। कम लोगों के साथ बैठकें करने के लिए बिना किसी खर्च और बिना समय गंवाए अब प्रदेश स्तरीय बैठकों से लेकर मंडल तक की बैठकें तुरंत सूचना देने के बाद बिना खर्च के हो रही हैं। राजनीतिक या अन्य बैठकें ही नहीं, छात्रों की पढ़ाई और लेन देन में भी पूर्व में जो लोग ऑनलाइन प्रक्रिया को अपनाने से कतराते थे, अब वे भी लाइन पर आने लगे हैं। परंतु इसके दुष्परिणाम भी देखने को मिले हैं। घर बैठे शरारती तत्व समाजसेवी व हाई प्रोफाइल लोगो की आई डी व पेज हैक करने मे लग गए हैं ताकि पे टीएम व अन्य माध्यमों से बड़े लोगों को ब्लैकमेल कर बदनाम किया जा सके व कुछ फायदा लिया जा सके। ऐसा ही मामला गत दिवस देखने को मिला जब बीबीएन स्तिथ समाजसेवी संस्था अमित सिंगला वेलफेयर सोसाइटी के प्रधान सुमित सिंगला एस पी आफिस अपनी आपबीती सुनाने पहुंचे। सिंगला ने लिखित शिकायत दे अपना 10 वर्ष से चल रहे फेसबुक अकाउंट बारे पुलिस आई टी सेल को अवगत कराया। आई टी सेल मे तैनात इंस्पेक्टर हेमंत कुमार ने तुरंत इस पर करवाई कर एस पी के आदेशानुसार साइबर कानून के तहत फेसबुक के मुख्य कार्यालय यू एस ए को मेल कर आई डी होल्ड करवाई। भले ही शुरुआत में बदले जमाने की ऑनलाइन तकनीक आसान प्रतीत होती हो, लेकिन लॉकडाउन ने लोगों के लिए इसे आसान होने के साथ खतरनाक भी बना दिया है। समाजसेवी व बिजनेस से जुड़ी कंपनियों के लोग व हाई प्रोफाइल  अब तक तकनीक से दूर रहने वाले लोगों ने तकनीक की ओर कदम पीछे करने शुरु किये हैं। ऑनलाइन काम तो हो रहा है व कर्फ्यू में घर बैठ लोग अपना समय बिता रहे हैं परंतु शरारती तत्व इसे अपनी कमाई का साधन बना ब्लैकमेलिंग करने मे लगे हैं। एस पी बददी रोहित मालपाणी ने बताया फेसबुक आई डी हैक होने की शिकायतें आई हैं जिस पर आई टी सेल जांच कर रहा है।उन्होंने चेताया है कि लॉक डाउन के कारण डिटेक्ट किये हैकरों पर करवाई की जाएगी, असामाजिक तत्व ऐसी हरकतें छोड़ें अन्यथा साइबर क्राइम लॉ के तहत शीघ्र करवाई की जाएगी।

Nalagarh se anwar hussain ki report