ग्राम प्रधान ने अपने ही बेटे को मनरेगा मजदूरी का कराया भुगतान RTI में हुआ खुलासा

82
ग्राम प्रधान ने अपने ही बेटे को मनरेगा
  • हरैया विकास खंड के मानिकपुर ग्राम पंचायत में सूचना के अधिकार अधिनियम 2005 के अंतर्गत गाँव के ही प्रकाश वीर संजय गुप्त व अन्य लोंगो द्वारा विकास कार्यों से संबंधित सूचना जन सूचना अधिकारी द्वारा माँगी गई थी

जिसके अंतर्गत यह ज्ञात हुआ कि ग्राम प्रधान पुष्पा गुप्ता ने अपने ही बेटे प्रीतम गुप्ता के नाम से 2016 में सतिराम के घर से सड़क तक मिट्टी कार्य के लिए मजदूरी का भुगतान कराया गया है जिसके लिए शिकायत भी दर्ज कराई गई हैं शीकयतकर्ता द्वारा कहा गया दिए गए सूचना के अंतर्गत यह भी खुलासा हुआ है कि मनरेगा के अंतर्गत ही व्यक्ति विशेष को लाभ देते हुए पंचायत की खुली बैठक न करके हरिनारायण शुक्ला, दुःखन्ति व कलम के खेत के समतलीकरण के लिए तकरीबन ढाई लाख रुपये का भुगतान किया गया है जन सूचना अधिकारी द्वारा बताया गया कि अधिनियम के अंतर्गत कुल 1752 पेज की सूचना दी गई है ।

ग्राम प्रधान ने अपने ही बेटे को मनरेगा मजदूरी का कराया भुगतान RTI में हुआ खुलासा

हरैया विकास खंड के मानिकपुर ग्राम पंचायत में सूचना के अधिकार अधिनियम 2005 के अंतर्गत गाँव के ही प्रकाश वीर संजय गुप्त व अन्य लोंगो द्वारा विकास कार्यों से संबंधित सूचना जन सूचना अधिकारी द्वारा माँगी गई थी जिसके अंतर्गत यह ज्ञात हुआ कि ग्राम प्रधान पुष्पा गुप्ता ने अपने ही बेटे प्रीतम गुप्ता के नाम से 2016 में सतिराम के घर से सड़क तक मिट्टी कार्य के लिए मजदूरी का भुगतान कराया गया है जिसके लिए शिकायत भी दर्ज कराई गई हैं शीकयतकर्ता द्वारा कहा गया दिए गए सूचना के अंतर्गत यह भी खुलासा हुआ है कि मनरेगा के अंतर्गत ही व्यक्ति विशेष को लाभ देते हुए पंचायत की खुली बैठक न करके हरिनारायण शुक्ला, दुःखन्ति व कलम के खेत के समतलीकरण के लिए तकरीबन ढाई लाख रुपये का भुगतान किया गया है जन सूचना अधिकारी द्वारा बताया गया कि अधिनियम के अंतर्गत कुल 1752 पेज की सूचना दी गई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here