एटा। मिरहची थाना क्षेत्र में संदिग्ध हालात में एक महिला की मौत

35
एटा। मिरहची थाना क्षेत्र
  • एटा। मिरहची थाना क्षेत्र में संदिग्ध हालात में एक महिला की मौत हो गई। महिला के भाई ने जेठ और जेठानी पर जमीन हड़पकर हत्या करने का आरोप लगाया है। साथ ही पुलिस को सूचना देकर शव का पोस्टमार्टम भी कराया है। उधर, पुलिस का कहना है कि रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

क्षेत्र के गांव दतेई निवासी नीतू (45) पत्नी लाल सिंह को रविवार सुबह 10 बजे जिला अस्पताल लाया गया, यहां से गंभीर हालत मेें सैफई रेफर कर दिया गया। महिला की रास्ते में ही मौत हो गई और शव को परिजन गांव लेकर पहुंच गए। महिला की मौत की खबर मिलने पर मायके से भाई सनोज कुमार अन्य लोगों के साथ गांव दतेई पहुंचा तो नाक और मुंह से खून बह रहा था। भाई सनोज कुमार ने बताया है कि बहन के हिस्से में सात बीघा जमीन पड़ती है। इस जमीन में से तीन बीघा का बैनामा जेठ मोहरपाल ने अपने नाम पहले करा लिया था और बाद में चार बीघा जमीन की वसीयत करा ली। इसका बहन विरोध करती थी, जबकि बहनोई मानसिक रूप से कमजोर हैं। इसलिए जेठ और जेठानी रास्ते से हटाना चाहते थे और हत्या कर दी। भाई ने बताया है कि बहन को कोई बेटा नहीं था। तीन बेटियां, डॉली, तन्नू और डिम्पल हैं। एक बेटी की शादी हो चुकी है। बेटा नहीं होने के चलते जमीन पर मोहरपाल की पहले से ही नजर थी। बहन के नाक और मुंह से खून आ रहा था। इसलिए हत्या होने की पूरी संभावना है। पुलिस को खबर देकर शव का पोस्टमार्टम कराया है। प्रभारी निरीक्षक सीताराम सरोज ने बताया है कि महिला के मायके वालों ने हत्या का आरोप लगाया है। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

एटा। मिरहची थाना क्षेत्र में संदिग्ध हालात में एक महिला की मौत हो गई। महिला के भाई ने जेठ और जेठानी पर जमीन हड़पकर हत्या करने का आरोप लगाया है। साथ ही पुलिस को सूचना देकर शव का पोस्टमार्टम भी कराया है। उधर, पुलिस का कहना है कि रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। क्षेत्र के गांव दतेई निवासी नीतू (45) पत्नी लाल सिंह को रविवार सुबह 10 बजे जिला अस्पताल लाया गया, यहां से गंभीर हालत मेें सैफई रेफर कर दिया गया। महिला की रास्ते में ही मौत हो गई और शव को परिजन गांव लेकर पहुंच गए। महिला की मौत की खबर मिलने पर मायके से भाई सनोज कुमार अन्य लोगों के साथ गांव दतेई पहुंचा तो नाक और मुंह से खून बह रहा था। भाई सनोज कुमार ने बताया है कि बहन के हिस्से में सात बीघा जमीन पड़ती है।

इस जमीन में से तीन बीघा का बैनामा जेठ मोहरपाल ने अपने नाम पहले करा लिया था और बाद में चार बीघा जमीन की वसीयत करा ली। इसका बहन विरोध करती थी, जबकि बहनोई मानसिक रूप से कमजोर हैं। इसलिए जेठ और जेठानी रास्ते से हटाना चाहते थे और हत्या कर दी। भाई ने बताया है कि बहन को कोई बेटा नहीं था। तीन बेटियां, डॉली, तन्नू और डिम्पल हैं। एक बेटी की शादी हो चुकी है। बेटा नहीं होने के चलते जमीन पर मोहरपाल की पहले से ही नजर थी। बहन के नाक और मुंह से खून आ रहा था। इसलिए हत्या होने की पूरी संभावना है। पुलिस को खबर देकर शव का पोस्टमार्टम कराया है। प्रभारी निरीक्षक सीताराम सरोज ने बताया है कि महिला के मायके वालों ने हत्या का आरोप लगाया है। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here