बाहर से आने वालों पर रखी जाये सतर्क नजर -डीएम हरियाणा के 141 मजदूरों को किया गया कोरोन्टाइन। कोई भी व्यक्ति कोरोन्टाइन भवन से बाहर न जाने पाये।

71
घर में ही रहें, बाहर न निकलें, मास्क पहनें
  • कासगंज: कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिये जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाष सिंह ने कहा कि जनपद में बाहर से आने वाले व्यक्तियों पर सतर्क नजर रखकर उसका चिकित्सकीय परीक्षण कर शैल्टर होम पर 14 दिन के लिये कोरन्टाइन किया जाये।

जनपद कासगंज के हरियाणा में फंसे 141 मजदूरों के बसों द्वारा कासगंज बस स्टैण्ड आने पर उनकी जांच कराकर उन्हें आश्रय स्थलों पर कोरोन्टाइन कराया गया है। इनमें से 68 मजदूरों को श्री गंगा देवी धर्मषाला रेलवे रोड, कासगंज में, 29 मजदूरों को मुलायम सिंह इण्टर कालेज सहावर में तथा 44 मजदूरों को पीआरबी इण्टर कालेज पटियाली में बनाये गये आश्रय स्थलों में ठहराया गया है।
जिलाधिकारी ने जनपद कासगंज के निवासी, अन्य राज्यों से आ रहे व्यक्तियों के सम्बन्ध में निर्देष दिये कि आश्रय स्थलों में इन कोरोन्टाइन किये गये व्यक्तियों के ठहरने, भोजन, पेयजल, मास्क, सैनेटाइजेषन आदि की पर्याप्त व्यवस्था रखी जाये। सामुदायिक किचिन के द्वारा इन्हें और क्षेत्र के गरीब व जरूरतमंदों को नियमित रूप से ताजा भोजन के पैकेट उपलब्ध कराये जायें। क्वारेन्टाइन सेन्टरों पर ठहरे व्यक्तियों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिये। ध्यान रखें कि कोई भी व्यक्ति चिकित्सक की अनुमति के बिना किसी भी दषा में कोरोन्टाइन भवन से बाहर न जाने पायें।
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद की सीमाओं पर थर्मल एनालाइजर की व्यवस्था की जाये, ताकि किसी भी संदिग्ध व्यक्ति की तत्काल पहचान हो सके एवं उसे आइसोलेट किया जा सके। सभी सरकारी, गैर सरकारी, निजी संस्थान, प्रतिष्ठानों में साबुन से हाथ धोने एवं सेनेटाइजेषन की व्यवस्था निरंतर रखी जाये। प्रत्येक नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी, लेखपाल, आषा, एएनएम, सफाई कर्मचारियों को सख्त निर्देष देकर जिम्मेदारी दें कि बाहर से आने वाले व्यक्तियों के बारे में तत्काल सूचित करते रहंें।

बाहर से आने वालों पर रखी जाये सतर्क नजर -डीएम
हरियाणा के 141 मजदूरों को किया गया कोरोन्टाइन। कोई भी व्यक्ति कोरोन्टाइन भवन से बाहर न जाने पाये।
कासगंज: कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिये जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाष सिंह ने कहा कि जनपद में बाहर से आने वाले व्यक्तियों पर सतर्क नजर रखकर उसका चिकित्सकीय परीक्षण कर शैल्टर होम पर 14 दिन के लिये कोरन्टाइन किया जाये।
जनपद कासगंज के हरियाणा में फंसे 141 मजदूरों के बसों द्वारा कासगंज बस स्टैण्ड आने पर उनकी जांच कराकर उन्हें आश्रय स्थलों पर कोरोन्टाइन कराया गया है। इनमें से 68 मजदूरों को श्री गंगा देवी धर्मषाला रेलवे रोड, कासगंज में, 29 मजदूरों को मुलायम सिंह इण्टर कालेज सहावर में तथा 44 मजदूरों को पीआरबी इण्टर कालेज पटियाली में बनाये गये आश्रय स्थलों में ठहराया गया है।
जिलाधिकारी ने जनपद कासगंज के निवासी, अन्य राज्यों से आ रहे व्यक्तियों के सम्बन्ध में निर्देष दिये कि आश्रय स्थलों में इन कोरोन्टाइन किये गये व्यक्तियों के ठहरने, भोजन, पेयजल, मास्क, सैनेटाइजेषन आदि की पर्याप्त व्यवस्था रखी जाये। सामुदायिक किचिन के द्वारा इन्हें और क्षेत्र के गरीब व जरूरतमंदों को नियमित रूप से ताजा भोजन के पैकेट उपलब्ध कराये जायें। क्वारेन्टाइन सेन्टरों पर ठहरे व्यक्तियों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिये। ध्यान रखें कि कोई भी व्यक्ति चिकित्सक की अनुमति के बिना किसी भी दषा में कोरोन्टाइन भवन से बाहर न जाने पायें।
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद की सीमाओं पर थर्मल एनालाइजर की व्यवस्था की जाये, ताकि किसी भी संदिग्ध व्यक्ति की तत्काल पहचान हो सके एवं उसे आइसोलेट किया जा सके। सभी सरकारी, गैर सरकारी, निजी संस्थान, प्रतिष्ठानों में साबुन से हाथ धोने एवं सेनेटाइजेषन की व्यवस्था निरंतर रखी जाये। प्रत्येक नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी, लेखपाल, आषा, एएनएम, सफाई कर्मचारियों को सख्त निर्देष देकर जिम्मेदारी दें कि बाहर से आने वाले व्यक्तियों के बारे में तत्काल सूचित करते रहंें।