सुल्तानपुर प्रिया सिंह फिल्म इंडस्ट्री के ऋषि कपूर व इरफान खान जैसे कलाकार हम लोगों पर छोड़ कर चले गए फिर देते हैं हम उनका हृदय से श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं

124
सुल्तानपुर प्रिया सिंह फिल्म इंडस्ट्री
  • मैं प्रिया सिंह सुल्तानपुर गांव पलहीपुर से हूं “
  • मुंबई आने के बाद मालूम हुआ की फिल्म इंडस्ट्री में कितना मेहनत है मेरे घरवाले जरा भी राजी नहीं थे पर सबसे लड़ाई झगड़े करने के बाद आना पड़ा और दूसरी बात मेरा सपना था धर्म जी से मिलना क्योंकि मैं उनकी बचपन से फैन थी क्या मालूम किस्मत में होगा कि नहीं

जब हमारे फिल्म का एक भी व्यक्ति इस दुनिया से जाता है तो हमें बहुत दुख होता है कल इरफान खान जी जैसा कलाकार हमारे बीच में नहीं रहे जब हम अपना घर परिवार छोड़ कर आते हैं तो ऐसा लगता है कि फिल्म इंडस्ट्री की हमारा सब कुछ है आज लॉक डाउन में हमारा काम सब बंद है तकलीफ तो बहुत हो रही है पर बस ऊपर वाले से यही दुआ करेंगे कि जल्दी सब सही हो जाए
हम यही कहेंगे सब से हाथ जोड़कर कि प्लीज घर में रहिए अगर एक महीना आप सब ना निकले तो उसके बाद सब सही हो जाएगा सरकार हम सब के लिए सोच रही है हमारी जान बचाने के लिए यह सब कर रही है नहीं तो उसको कोई शौक थोड़ी है हम जिंदा रहेंगे फिर हम कमा सकते हैं खुशी-खुशी रह सकते हैं इसलिए मोदी जी ने बोला है जान भी जहान भी मैं आप लोगों की प्रॉब्लम समझती हूं पर सही मौका है कि हम दिखा दे अपनी काबिलियत की हम भारतीय हैं
हिंदुस्तान हमारा है हम क्या 1 महीने घर में नहीं रह सकते अरे सोचो हमारे हिंदुस्तान के वीर सपूत पहले कितने लोग कुर्बान हुए हैं हमारे हिंदुस्तान के लिए कितने लोग शहीद हुए हैं
आज हमारे फिल्म इंडस्ट्री के ऋषि कपूर जी हम लोगों के बीच में नहीं रहे ऋषि कपूर जैसा कलाकार जो आज हम लोग को छोड़ कर चले गए हम उनका हृदय से श्रद्धांजलि करते हैं

मैं प्रिया सिंह सुल्तानपुर गांव पलहीपुर से हूं “
“मुंबई आने के बाद मालूम हुआ की फिल्म इंडस्ट्री में कितना मेहनत है मेरे घरवाले जरा भी राजी नहीं थे पर सबसे लड़ाई झगड़े करने के बाद आना पड़ा और दूसरी बात मेरा सपना था धर्म जी से मिलना क्योंकि मैं उनकी बचपन से फैन थी क्या मालूम किस्मत में होगा कि नहीं
“जब हमारे फिल्म का एक भी व्यक्ति इस दुनिया से जाता है तो हमें बहुत दुख होता है कल इरफान खान जी जैसा कलाकार हमारे बीच में नहीं रहे जब हम अपना घर परिवार छोड़ कर आते हैं तो ऐसा लगता है कि फिल्म इंडस्ट्री की हमारा सब कुछ है आज लॉक डाउन में हमारा काम सब बंद है तकलीफ तो बहुत हो रही है पर बस ऊपर वाले से यही दुआ करेंगे कि जल्दी सब सही हो जाए
हम यही कहेंगे सब से हाथ जोड़कर कि प्लीज घर में रहिए अगर एक महीना आप सब ना निकले तो उसके बाद सब सही हो जाएगा सरकार हम सब के लिए सोच रही है हमारी जान बचाने के लिए यह सब कर रही है नहीं तो उसको कोई शौक थोड़ी है हम जिंदा रहेंगे फिर हम कमा सकते हैं खुशी-खुशी रह सकते हैं इसलिए मोदी जी ने बोला है जान भी जहान भी मैं आप लोगों की प्रॉब्लम समझती हूं पर सही मौका है कि हम दिखा दे अपनी काबिलियत की हम भारतीय हैं
हिंदुस्तान हमारा है हम क्या 1 महीने घर में नहीं रह सकते अरे सोचो हमारे हिंदुस्तान के वीर सपूत पहले कितने लोग कुर्बान हुए हैं हमारे हिंदुस्तान के लिए कितने लोग शहीद हुए हैं
आज हमारे फिल्म इंडस्ट्री के ऋषि कपूर जी हम लोगों के बीच में नहीं रहे ऋषि कपूर जैसा कलाकार जो आज हम लोग को छोड़ कर चले गए हम उनका हृदय से श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं

Reporter Syed Nehal Hasan