बैरीकेटिंग, सीसीटीवी व ड्रोन कैमरों के माध्यम से लाॅक डाउन का कराया जा रहा है पालन बाहरी व्यक्तियों पर रखी जा रही है पैनी नजर-डीएम

76
बैरीकेटिंग, सीसीटीवी व ड्रोन कैमरों
  • कासगंज: जिला मजिस्ट्रेट चन्द्र प्रकाश सिंह ने बताया कि कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण हेतु लगे लाॅकडाउन एवं कानून व्यवस्था का प्रभावी ढंग से पालन कराने के लिये जनपद की सभी सीमाओं पर पुलिस फोर्स के साथ बैरीकेटिंग लगाकर बाहरी व्यक्तियों पर पैनी नजर रखी जा रही है।

ताकि बाहर से आने वाले किसी संक्रमित व्यक्ति से जनपदवासियों को किसी समस्या का सामना न करना पड़ें। पूरे जनपद में तथा तीनों हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों में लाॅकडाउन का उल्लंघन रोकने के लिये सीसीटीवी कैमरों एवं ड्रोन कैमरों से निगरानी कराई जा रही है।
जिला मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने बताया कि जनपद कासगंज को 29 सेक्टर, 12 जोन तथ 03 सुपर जोन में विभक्त कर अधिकारियों की निरंतर 24 घण्टे की ड्यूटियां लगाई गई हैं। पुलिस, प्रशासन एवं नगरीय निकायों के वाहनों पर लाडस्पीकर लगाकर जनता को कोरोना वायरस से बचाव हेतु लाॅकडाउन का पालन करने एवं जागरूक व सतर्क रहकर मास्क, गमछा, हैण्डवाश एवं सैनेटाइजर का उपयोग करने हेतु लगातार प्रेरित किया जा रहा है। इसके अलावा धार्मिक स्थलों, ग्राम पंचायतों, नगर पालिका, नगर पंचायतों के पब्लिक एड्रेस सिस्टम द्वारा लाउडस्पीकरों के माध्यम से लोगों को घरों में ही रहने, बाहर न निकलने, मास्क पहनने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिये निरंतर जागरूक किया जा रहा है।
जिला मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने बताया कि जनपद कासगंज की समस्त 423 ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधानों को निःशुल्क मास्क के अलावा ब्लीचिंत पाउडर एवं हाइपोक्लोराइड घोल अपनी अपनी ग्राम पंचायतों में सैनेटाइजेशन के लिये उपलब्ध करा दिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में सैनेटाइजेशन का कार्य निरंतर जारी है। समस्त खण्ड विकास अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया है कि उनके क्षेत्र की समस्त ग्राम पंचायतों में रोस्टर के अनुसार सप्ताह में दो बार दवा का छिड़काव-सैनेटाइजेशन करने और साफ सफाइ्र बनाये रखने के लिये ग्राम स्तरीय कर्मचारियों की जिम्मेदारी सौंप कर नियमित रिपोर्ट ली जा रही है।

बैरीकेटिंग, सीसीटीवी व ड्रोन कैमरों के माध्यम से लाॅक डाउन का कराया जा रहा है पालन। बाहरी व्यक्तियों पर रखी जा रही है पैनी नजर-डीएम
कासगंज: जिला मजिस्ट्रेट चन्द्र प्रकाश सिंह ने बताया कि कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण हेतु लगे लाॅकडाउन एवं कानून व्यवस्था का प्रभावी ढंग से पालन कराने के लिये जनपद की सभी सीमाओं पर पुलिस फोर्स के साथ बैरीकेटिंग लगाकर बाहरी व्यक्तियों पर पैनी नजर रखी जा रही है। ताकि बाहर से आने वाले किसी संक्रमित व्यक्ति से जनपदवासियों को किसी समस्या का सामना न करना पड़ें। पूरे जनपद में तथा तीनों हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों में लाॅकडाउन का उल्लंघन रोकने के लिये सीसीटीवी कैमरों एवं ड्रोन कैमरों से निगरानी कराई जा रही है।
जिला मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने बताया कि जनपद कासगंज को 29 सेक्टर, 12 जोन तथ 03 सुपर जोन में विभक्त कर अधिकारियों की निरंतर 24 घण्टे की ड्यूटियां लगाई गई हैं। पुलिस, प्रशासन एवं नगरीय निकायों के वाहनों पर लाडस्पीकर लगाकर जनता को कोरोना वायरस से बचाव हेतु लाॅकडाउन का पालन करने एवं जागरूक व सतर्क रहकर मास्क, गमछा, हैण्डवाश एवं सैनेटाइजर का उपयोग करने हेतु लगातार प्रेरित किया जा रहा है। इसके अलावा धार्मिक स्थलों, ग्राम पंचायतों, नगर पालिका, नगर पंचायतों के पब्लिक एड्रेस सिस्टम द्वारा लाउडस्पीकरों के माध्यम से लोगों को घरों में ही रहने, बाहर न निकलने, मास्क पहनने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिये निरंतर जागरूक किया जा रहा है।
जिला मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने बताया कि जनपद कासगंज की समस्त 423 ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधानों को निःशुल्क मास्क के अलावा ब्लीचिंत पाउडर एवं हाइपोक्लोराइड घोल अपनी अपनी ग्राम पंचायतों में सैनेटाइजेशन के लिये उपलब्ध करा दिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में सैनेटाइजेशन का कार्य निरंतर जारी है। समस्त खण्ड विकास अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया है कि उनके क्षेत्र की समस्त ग्राम पंचायतों में रोस्टर के अनुसार सप्ताह में दो बार दवा का छिड़काव-सैनेटाइजेशन करने और साफ सफाइ्र बनाये रखने के लिये ग्राम स्तरीय कर्मचारियों की जिम्मेदारी सौंप कर नियमित रिपोर्ट ली जा रही है।