कोरोना वाॅरियर्स को वायु सेना ने पुष्प वर्षा कर दिया धन्यवाद

86
कोरोना वाॅरियर्स को वायु सेना
  • कोरोनावायरस से देश में जंग जारी है।इस जंग में कोरोना वाॅरियर्स ने अपना अहम दान दे रहे है और दिन रात अपने काम में कार्यरत रह कर देश को इस संक्रमण से लड़ने में मदद कर रही है। सेना के तीनों अंगों के जवान कोरोना को शिकस्त देने में जुड़े हजारों डॉक्टरों, नर्सों और मेडिकल स्टाफ, सफाई कर्मी और दूसरे फ्रंटलाइन योद्धाओं के प्रति आभार प्रकट करते हुए उन पर पुष्पवर्षा कर रही है।

दिल्ली के पुलिस वॉर मेमोरियल में सलामी देते हुए इस कार्यक्रम की शुरुआत हुई. राजधानी में स्थित एम्स और सफदरजंग अस्पताल पर सेना की ओर से पुष्प वर्षा की गई. स्वास्थ्यकर्मियों के सम्मान में सेना का ये योगदान उनके जज्बे को ताकत देने वाला रहा. एलएनजेपी, जीटीबी और राजीव गांधी अस्पताल में भी सेना ने सम्मान भरा पैगाम दिया.इससे इन कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन हुआ। भारतीय सेना द्वारा रविवार पूर्वान्ह करीब 11 बजे फ्लाई पास्ट किया गया। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स और अंबेडकर अस्पताल मेकाहारा के उपर वायु सेना के हेलीकाप्टर के माध्यम से फूलों की वर्षा की गई। ऐसा करके कोरोना वारियर्स को सलामी दी गई।सबसे पहले एम्स रायपुर में कोरोना योद्धाओं पर पुष्पवर्षा कर उनका सम्मान किया गया। करीब 100 फ़ीट ऊपर से 10 मिनट तक हेलीकॉप्टर द्वारा फूलों से वर्षा की गई। एम्स के बाद अम्बेडकर अस्पताल के लिए हेलीकाप्टर रवाना हुआ। वायुसेना ने कोरोना से जंग में जुटे स्वास्थ्य अमले का कुछ अलग तरह से सम्मान करने की योजना बनाई थी और रविवार को पुष्प वर्षा कर कोरोना योद्धाओं को सलाम किया गया।कोरोना के संकट के बीच रावत ने कहा था कि तीनों सेना कोरोना योद्धाओं का सम्मान करेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके ऐलान की सराहना की थी। तीनों सेना प्रमुखों के साथ एक कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए जनरल रावत बताया कि कोरोना योद्धाओं के सम्मान में वायुसेना का एक फ्लाई पास्ट श्रीनगर से त्रिवेंद्रम जाएगा, जबकि दूसरा डिब्रूगढ़ से कच्छ के बीच उड़ान भरेगा। इस फ्लाई पास्ट में ट्रांसपोर्ट और फाइटर एयरक्राफ्ट शामिल होंगे।

कोरोना वाॅरियर्स को वायु सेना ने पुष्प वर्षा कर दिया धन्यवाद

कोरोनावायरस से देश में जंग जारी है।इस जंग में कोरोना वाॅरियर्स ने अपना अहम दान दे रहे है और दिन रात अपने काम में कार्यरत रह कर देश को इस संक्रमण से लड़ने में मदद कर रही है। सेना के तीनों अंगों के जवान कोरोना को शिकस्त देने में जुड़े हजारों डॉक्टरों, नर्सों और मेडिकल स्टाफ, सफाई कर्मी और दूसरे फ्रंटलाइन योद्धाओं के प्रति आभार प्रकट करते हुए उन पर पुष्पवर्षा कर रही है।
दिल्ली के पुलिस वॉर मेमोरियल में सलामी देते हुए इस कार्यक्रम की शुरुआत हुई. राजधानी में स्थित एम्स और सफदरजंग अस्पताल पर सेना की ओर से पुष्प वर्षा की गई. स्वास्थ्यकर्मियों के सम्मान में सेना का ये योगदान उनके जज्बे को ताकत देने वाला रहा. एलएनजेपी, जीटीबी और राजीव गांधी अस्पताल में भी सेना ने सम्मान भरा पैगाम दिया.इससे इन कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन हुआ। भारतीय सेना द्वारा रविवार पूर्वान्ह करीब 11 बजे फ्लाई पास्ट किया गया। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स और अंबेडकर अस्पताल मेकाहारा के उपर वायु सेना के हेलीकाप्टर के माध्यम से फूलों की वर्षा की गई। ऐसा करके कोरोना वारियर्स को सलामी दी गई।सबसे पहले एम्स रायपुर में कोरोना योद्धाओं पर पुष्पवर्षा कर उनका सम्मान किया गया। करीब 100 फ़ीट ऊपर से 10 मिनट तक हेलीकॉप्टर द्वारा फूलों से वर्षा की गई। एम्स के बाद अम्बेडकर अस्पताल के लिए हेलीकाप्टर रवाना हुआ। वायुसेना ने कोरोना से जंग में जुटे स्वास्थ्य अमले का कुछ अलग तरह से सम्मान करने की योजना बनाई थी और रविवार को पुष्प वर्षा कर कोरोना योद्धाओं को सलाम किया गया।कोरोना के संकट के बीच रावत ने कहा था कि तीनों सेना कोरोना योद्धाओं का सम्मान करेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके ऐलान की सराहना की थी। तीनों सेना प्रमुखों के साथ एक कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए जनरल रावत बताया कि कोरोना योद्धाओं के सम्मान में वायुसेना का एक फ्लाई पास्ट श्रीनगर से त्रिवेंद्रम जाएगा, जबकि दूसरा डिब्रूगढ़ से कच्छ के बीच उड़ान भरेगा। इस फ्लाई पास्ट में ट्रांसपोर्ट और फाइटर एयरक्राफ्ट शामिल होंगे।

तेजस्विता उपाध्यया