डी.डी नेशनल बना विश्व में सबसे ज्यादा देखे जाने वाला चैनल

148
डी.डी नेशनल बना विश्व
  • डी.डी नेशनल पर प्रसारित रामानंद सागर के रामायण ने आज टि.आर.पी को अपने अधीन कर लिया है। कोरोना वायरस के तेजी से फैल रहे संक्रमण को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉकडाउन करना पड़ा है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बड़ा ऐलान करते हुए बताया है कि एक बार फिर दूरदर्शन पर रामानंद सागर की रामायण का प्रसारण किया जाएगा।

16 अप्रैल को रामायण को दुनिया में सर्वाधिक लोगों द्वारा टीवी पर देखा गया। इस दिन कुल 7.7 करोड़ लोगों ने रामायण को टीवी पर देखा। बता दें कि रामायण धारावाहिक हिंदी ग्रंथ रामायण पर आधारित है, जिसमे भगवान राम के जीवन यात्रा को दिखाया गया है। इस धाराविक में भगवान राम के बचपन से लेकर, वनवास, रावण के वध तक की यात्रा को दिखाया गया है। किस तरह से भगवान रावण का वध करके सीता माता को लेकर वापस अयोध्या लौटते हैं, इस खूबसूरत यात्रा को इस टीवी सीरियल के माध्यम से दिखाया गया है।
बता दें कि रामायण टीवी सीरियल को पहली बार 25 जनवरी 1987 को टीवी पर प्रसारित किया गया था जोकि एक वर्ष से भी अधिक समय तक चला और इसका आखिरी एपिसोड 31 जुलाई 1988 को टीवी पर प्रसारित किया। इस सीरियल को हर रविवार को सुबह 9.30 बजे प्रसारित किया जाता था। जून 2003 तक रामायण सीरियल का नाम पौराणिक धारावाहिक के तौर पर दुनिया में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले धारावाहिक के तौर रूप में लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज था। रामायण एक वो धारावाहिक है जो पहले भी खूब प्रचलित था और आज के युग में भी खुद पसंद किया जा रहा है।अपनी टि.आर.पी को बरकरार रखने के लिए सरकारी चैनल दूरदर्शन ने श्री कृष्ण सीरियल को एक बार फिर से प्रसारित कर दिया है। इस शो को भी रामानंद सागर ने ही बनाया था.कृष्णा के बचपन का रोल अशोक कुमार, बड़े होने पर स्वप्निल जोशी और सबसे बड़े कृष्णा का किरदार सर्वदमन डी. बनर्जी ने निभाया था. 1993 में टेलीकास्ट होने वाला ये श्री कृष्ण सीरीयाल श्रीमद्भागवत पर आधारित भगवान श्रीकृष्ण की गाथा का गान करता है। 80 और 90 के दशक में प्रसारित होने वाले सीरीयाल की लोकप्रियता देख कर सरकार द्वारा डी.डी. रेट्रो नामक चैनल को लौंच किया है जिसपर सिर्फ पुराने
सीरीयाल ही प्रसारित होंगे ।

डी.डी नेशनल बना विश्व में सबसे ज्यादा देखे जाने वाला चैनल

डी.डी नेशनल पर प्रसारित रामानंद सागर के रामायण ने आज टि.आर.पी को अपने अधीन कर लिया है। कोरोना वायरस के तेजी से फैल रहे संक्रमण को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉकडाउन करना पड़ा है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बड़ा ऐलान करते हुए बताया है कि एक बार फिर दूरदर्शन पर रामानंद सागर की रामायण का प्रसारण किया जाएगा।
16 अप्रैल को रामायण को दुनिया में सर्वाधिक लोगों द्वारा टीवी पर देखा गया। इस दिन कुल 7.7 करोड़ लोगों ने रामायण को टीवी पर देखा। बता दें कि रामायण धारावाहिक हिंदी ग्रंथ रामायण पर आधारित है, जिसमे भगवान राम के जीवन यात्रा को दिखाया गया है। इस धाराविक में भगवान राम के बचपन से लेकर, वनवास, रावण के वध तक की यात्रा को दिखाया गया है। किस तरह से भगवान रावण का वध करके सीता माता को लेकर वापस अयोध्या लौटते हैं, इस खूबसूरत यात्रा को इस टीवी सीरियल के माध्यम से दिखाया गया है।
बता दें कि रामायण टीवी सीरियल को पहली बार 25 जनवरी 1987 को टीवी पर प्रसारित किया गया था जोकि एक वर्ष से भी अधिक समय तक चला और इसका आखिरी एपिसोड 31 जुलाई 1988 को टीवी पर प्रसारित किया। इस सीरियल को हर रविवार को सुबह 9.30 बजे प्रसारित किया जाता था। जून 2003 तक रामायण सीरियल का नाम पौराणिक धारावाहिक के तौर पर दुनिया में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले धारावाहिक के तौर रूप में लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज था। रामायण एक वो धारावाहिक है जो पहले भी खूब प्रचलित था और आज के युग में भी खुद पसंद किया जा रहा है।अपनी टि.आर.पी को बरकरार रखने के लिए सरकारी चैनल दूरदर्शन ने श्री कृष्ण सीरियल को एक बार फिर से प्रसारित कर दिया है। इस शो को भी रामानंद सागर ने ही बनाया था.कृष्णा के बचपन का रोल अशोक कुमार, बड़े होने पर स्वप्निल जोशी और सबसे बड़े कृष्णा का किरदार सर्वदमन डी. बनर्जी ने निभाया था. 1993 में टेलीकास्ट होने वाला ये श्री कृष्ण सीरीयाल श्रीमद्भागवत पर आधारित भगवान श्रीकृष्ण की गाथा का गान करता है। 80 और 90 के दशक में प्रसारित होने वाले सीरीयाल की लोकप्रियता देख कर सरकार द्वारा डी.डी. रेट्रो नामक चैनल को लौंच किया है जिसपर सिर्फ पुराने
सीरीयाल ही प्रसारित होंगे ।

17 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here