डीएम, एसपी ने कासगंज रेलवे स्टेशन पर व्यवस्थाओं का लिया जायेजा। स्पेशल ट्रेन द्वारा गुजरात से कासगंज आने वाले प्रवासी 1200 मजदूरों को घर पहुंचाने के लिये लगाई गईं 50 से अधिक बसें।

54
डीएम एसपी ने कासगंज रेलवे स्टेशन
  • कासगंज: जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह एवं पुलिस अधीक्षक सुशील घुले तथा मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 प्रतिमा श्रीवास्तव ने आज कासगंज रेलवे स्टेशन पहुंच कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया और निर्देश दिये कि बाहर से आ रहे सभी मजदूरों की सोशल डिस्टेंसिंगके साथ थर्मल स्कैनिंग जरूर कराई जाये।

सभी को भोजन के पैकेट आदि देकर ही बसों द्वारा उनके घर पहुंचाया जाये। गुजरात के प्रवासी मजदूरों को अपने घर पहुंचाने के लिये 50 से अधिक बसों की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की गई है।
कोविड-19 के संक्रमण के दृष्टिगत लगे लाॅकडाउन के कारण उ0प्र0 सरकार के द्वारा विभिन्न प्रदेशों में फंसे प्रवासी मजदूरों को यहां ट्रेन और बसों द्वारा लाने का सिलसिला लगातार जारी है। इसी क्रम में गुजरात से स्पेशल ट्रेन द्वारा प्रवासी 1200 मजदूरों को कासगंज लाया जा रहा है। जिनके लिये कासगंज रेलवे स्टेशन पर सोशल डिस्टेंसिंग की व्यापक व्यवस्थायें की गई हैं। यह मजदूर आसपास के विभिन्न जनपदों के निवासी हैं।
इसके अलावा जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह व पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने कासगंज नगर का भ्रमण किया और लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को सतर्क किया कि कहीं भीड़ न लगायें। मुंह पर मास्क या गमछा जरूर लगायें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और दी गई सुविधाओं का लाभ उठायें। दुकानों पर हैण्डवाश और सैनेटाइजर की व्यवस्था रखी जाये। एक दुकान पर केवल एक दुकानदार व एक सहकर्मी ही अनुमन्य है। नियत समय पर दुकानें खोलें व बन्द करें। निर्देशों का पालन न करने पर दुकान सीज कर दी जायेगी। कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु लाॅकडाउन को सफल बनाने में शासन, प्रशासन का पूर्ण सहयोग करें।

डीएम, एसपी ने कासगंज रेलवे स्टेशन पर व्यवस्थाओं का लिया जायेजा।
स्पेशल ट्रेन द्वारा गुजरात से कासगंज आने वाले प्रवासी 1200 मजदूरों को घर पहुंचाने के लिये लगाई गईं 50 से अधिक बसें।

कासगंज: जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह एवं पुलिस अधीक्षक सुशील घुले तथा मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 प्रतिमा श्रीवास्तव ने आज कासगंज रेलवे स्टेशन पहुंच कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया और निर्देश दिये कि बाहर से आ रहे सभी मजदूरों की सोशल डिस्टेंसिंगके साथ थर्मल स्कैनिंग जरूर कराई जाये। सभी को भोजन के पैकेट आदि देकर ही बसों द्वारा उनके घर पहुंचाया जाये। गुजरात के प्रवासी मजदूरों को अपने घर पहुंचाने के लिये 50 से अधिक बसों की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की गई है।
कोविड-19 के संक्रमण के दृष्टिगत लगे लाॅकडाउन के कारण उ0प्र0 सरकार के द्वारा विभिन्न प्रदेशों में फंसे प्रवासी मजदूरों को यहां ट्रेन और बसों द्वारा लाने का सिलसिला लगातार जारी है। इसी क्रम में गुजरात से स्पेशल ट्रेन द्वारा प्रवासी 1200 मजदूरों को कासगंज लाया जा रहा है। जिनके लिये कासगंज रेलवे स्टेशन पर सोशल डिस्टेंसिंग की व्यापक व्यवस्थायें की गई हैं। यह मजदूर आसपास के विभिन्न जनपदों के निवासी हैं।
इसके अलावा जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह व पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने कासगंज नगर का भ्रमण किया और लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को सतर्क किया कि कहीं भीड़ न लगायें। मुंह पर मास्क या गमछा जरूर लगायें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और दी गई सुविधाओं का लाभ उठायें। दुकानों पर हैण्डवाश और सैनेटाइजर की व्यवस्था रखी जाये। एक दुकान पर केवल एक दुकानदार व एक सहकर्मी ही अनुमन्य है। नियत समय पर दुकानें खोलें व बन्द करें। निर्देशों का पालन न करने पर दुकान सीज कर दी जायेगी। कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु लाॅकडाउन को सफल बनाने में शासन, प्रशासन का पूर्ण सहयोग करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here