आई.आर.सी.टी.सी वेबसाइट पर शुरू हो चुकी है ट्रेन टिकटों की बुकिंग, चलेगी 30 ट्रेनें

37
आई.आर.सी.टी.सी वेबसाइट पर शुरू हो चुकी
  • तेजस्विता उपाध्यया।। कोरोनावायरस से लड़ने के लिए देश भर में लॉकडाउन जारी है हाँलाकी लॉकडाउन 3.0 में कई छुट दी गई है। इसी बीच खबर मिली है कि 12 मई से पैसेंजर ट्रेनें चलाई जायेंगी जिनकी बुकिंग आई.आर.सी.टी.सी वेबसाइट पर शुरू हो चुकी हैं।

आई.आर.सी.टी.सी वेबसाइट पर शुरू हो चुकी है ट्रेन टिकटों की बुकिंग, चलेगी 30 ट्रेनें

तेजस्विता उपाध्यया।। कोरोनावायरस से लड़ने के लिए देश भर में लॉकडाउन जारी है हाँलाकी लॉकडाउन 3.0 में कई छुट दी गई है। इसी बीच खबर मिली है कि 12 मई से पैसेंजर ट्रेनें चलाई जायेंगी जिनकी बुकिंग आई.आर.सी.टी.सी वेबसाइट पर शुरू हो चुकी हैं।

करीब दो महिनों के बाद अब पैसेंजर ट्रेनें फिर से पटरी पर दौड़ेगी।मंगलवार, 12 मई से नई दिल्ली से चुनिंदा जगहों के लिए ट्रेन चलेंगी. इनमें सवारी के लिए ऑनलाइन टिकट लेना होगा. इन एसी स्पेशल ट्रेनों के लिए हर दिन टिकट बेचे जाएंगे. मंगलवार को जो ट्रेने निकलेंगी, उनकी बुकिंग सोमवार शाम 4 बजे से शुरु होने वाली थी। लेकिन तकनीकी खामियों की वजह से शाम 6 बजे दोबारा बुकिंग शुरू की गई।अभी भी पहले की तरह की दिक्कतें आ रही हैं। हालांकि कहीं कुछ जगह आईआरसीटीसी की वेबसाइट काम कर रही है, जबकि अन्य जगहों पर कनेक्शन काफी स्लो है।भारतीय रेलवे ने बताया है कि 15 जोड़ी ट्रेनें 12 मई को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से से चलेंगी, नई दिल्ली से चलकर ये ट्रेनें डिब्रूगढ़, अगरतला, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुअनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू तवी पहुंचेंगी। एक बात जो गौर करने वाली है वह यह है कि 12 मई से शुरू होने वाली भारतीय रेलवे की यह खास सेवा, श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से अलग है। प्रवासी मजदूरों को ले जाने के लिए 300 ट्रेनें चल रही है।इन पैसेंजर ट्रेनों में यात्रियों को टिकट के किरायों में किसी भी प्रकार की रियायत नहीं दी जायेगी ट्रेनों का किराया राजधानी एक्सप्रेस के बराबर होगा। सोशल डिस्टेंसिंग का पुरा ख्याल रखते हुए यात्री ट्रेनों में सफ़र करेंगें इसी कारण से ट्रेनों के सीटों में कमी होगी।यात्रियों को ट्रेन के समय से 2 घंटे ही पहुंचना होगा। ट्रेनें लिमिटेड स्टाॅपेज के साथ ही चलेंगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here