अहमदाबाद से 1773 प्रवासी मजदूरों को लेकर कासगंज पहुंची छठी स्पेषल ट्रेन। डीएम, एसपी ने अपनी देखरेख में प्रवासी मजदूरों की जांच के बाद भोजन के पैकेट देकर भिजवाया उनके गृह जनपद।

108
अहमदाबाद से 1773 प्रवासी मजदूरों
  • कासगंज: कोविड-19 के संक्रमण के कारण लगे लाॅकडाउन में उ0प्र0 सरकार द्वारा अन्य प्रदेषों में फंसे प्रवासी श्रमिकों को स्पेषल ट्रेनों द्वारा गृह जनपद लाने का क्रम जारी है।

अहमदाबाद से 1773 प्रवासी मजदूरों को लेकर कासगंज पहुंची छठी स्पेषल ट्रेन।
डीएम, एसपी ने अपनी देखरेख में प्रवासी मजदूरों की जांच के बाद भोजन के पैकेट देकर भिजवाया उनके गृह जनपद।

कासगंज: कोविड-19 के संक्रमण के कारण लगे लाॅकडाउन में उ0प्र0 सरकार द्वारा अन्य प्रदेषों में फंसे प्रवासी श्रमिकों को स्पेषल ट्रेनों द्वारा गृह जनपद लाने का क्रम जारी है। आज गुजरात के अहमदाबाद से 1773 प्रवासी मजदूरों को लेकर छठी स्पेषल ट्रेन कासगंज पहुंची। जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाष सिंह एवं पुलिस अधीक्षक सुषील घुले द्वारा रेलवे स्टेषन पर स्वयं मौजूद रहकर अपनी देखरेख में सोषल डिस्टेंसिंग के साथ सभी प्रवासी मजदूरों की थर्मल स्कैनिंग कराने के बाद, उन्हें भोजन के पैकेट पानी की बोतलें आदि देकर सूचीबद्व कराकर व्यवस्थित तरीके से निर्धारित रोडवेज बसों द्वारा सुरक्षित ढंग से अपने गृह जनपद भिजवाया गया। जिसके लिये अधिकारियों, कर्मचारियों की टीमें लगातार व्यवस्थाओं में जुटी हुई हैं।
आज अहमदाबाद से प्रातः लगभग 8 बजे 1773 प्रवासी मजदूरों को लेकर स्पेषल ट्रेन कासगंज रेलवे जंक्षन पहुंची। इनमें 142 जनपद कासगंज के तथा 1631 प्रवासी मजदूर अन्य 64 जनपदों के थे। इन्हें गृह जनपद ले जाने के लिये 59 रोडवेज बसों को लगाया गया। कासगंज जंक्षन रेलवे स्टेषन पर सभी प्रषासनिक व्यवस्थायें चुस्तदुरूस्त रखी जा रही हैं। रेलवे स्टेषन परिसर में बैरीकेटिंग लगाकर फालतू व्यक्तियों का प्रवेष प्रतिबन्धित कर दिया गया है ताकि यात्रियों को निर्धारित बसों में बैठने आदि में कोई असुविधा न हो। प्रत्येक जनपद के लिये अलग अलग नम्बर लिखी बसें सैनेटाइज्ड कर तैयार की गई थीं। जिनमें सोषल डिस्टेंसिंग के साथ प्रवासी मजदूरों को बैठाकर सुरक्षित ढंग से रवाना किया गया।