लूडो किंग बन गया है लॉकडाउन में सबसे अधिक खेले जाने वाले गेम ऐप

95
लूडो किंग बन गया है लॉकडाउन
  • लॉकडाउन के कारण जहां सारे कारोबार ठप्प पड़े है वही ऑनलाइन गेम लूडो किंग ने लगभग हर मोबाइल में अपनी जगह बना ली है। इस ऐप के लिए मानों ये लॉकडाउन रामबाण बन कर आया हो।

लूडो किंग बन गया है लॉकडाउन में सबसे अधिक खेले जाने वाले गेम ऐप

लॉकडाउन के कारण जहां सारे कारोबार ठप्प पड़े है वही ऑनलाइन गेम लूडो किंग ने लगभग हर मोबाइल में अपनी जगह बना ली है। इस ऐप के लिए मानों ये लॉकडाउन रामबाण बन कर आया हो।
लॉकडाउन के समय जहां सभी अपने घरों में कैद है और बाहरी जीवन को याद कर रहे हैं और साथ ही अपने दोस्तों के साथ खेलने के लिए भी आतुर हैं ऐसे में लूडो किंग ऐप आपको ना केवल अपने दोस्तों से जोड़ता है बल्कि विश्वभर में आप किसी के साथ भी घर बैठे ये गेम खेल सकते हैं। आपको बता दें कि लूडो किंग एक गेम ऐप्लिकेशन जिसमें आप लूडो के साथ साथ सांप सीढ़ी भी खेल सकते हैं। आपको इस ऐप्लिकेशन से लूडो खेलने पर बिल्कुल वैसा ही अनुभव होगा जैसा की आप सामने बैठ रहें गिटिया चल रहे हो इनमें लागू सारे नियम वैसे ही है जैसा हम अपने फट्टे वाले लूडो के साथ खेलने में लागू करते हैं हाँ पर एक जगह है जहां आप अपना फट्टा का लूडो की याद आ सकती है , जब हारने पर आप धोखाधड़ी ना कर पाए।
इस लॉकडाउन में सारी दुनिया डिजिटल हो गयी है वहीं गेम ऐप्लिकेशन भी पिछे नहीं। पब जी गेम जैसे लूडो को खेलने के लिये आपको किसी खास कौशल की जरुरत नहीं ये वो गेम है जो लगभग हर घर में खेला जाता है और शायद यही कारण है कि देशबंदी के समय इसका व्यपार आसमान छू गया। लूडो किंग के संस्थापक विकाश जयसवाल ने बताया कि लॉकडाउन के समय कई युसर तो ऐसे भी हैं जो चार से पांच घंटा लूडो खेलते हैं। आपको बता दें कि लॉकडाउन के पहले लूडो किंग के 1.3 से 1.5 एक्टिव युसर थे जो अब लॉकडाउन के समय बढ़कर 5 करोड़ हो गया है जिसके वजह से ऐप्लिकेशन की आय में भी 5 गुना वृद्घि हुई है। वर्तमान की बात करें तो कोरोनावायरस को पूर्ण रूप से खत्म होने में अभी काफी समय