जेल भेज सकता है बिना पुष्टि शेयर किया गया मैसेज पोस्टर के माध्यम से फेक मैसेज को शेयर न करने की अपील अंजली फ़िल्म प्रोडक्शन्स एवं सिटीसीएस फैमिली एनजीओ का संयुक्त प्रयास

96
जेल भेज सकता है बिना पुष्टि शेयर
  • लखनऊ। एक तरफ पूरा देश एकजुट होकर कोरोना महामारी से जंग लड़ रहा है। वहीं कुछ अराजकतत्व गलत सूचनाओं को सोशल मीडिया पर वायरल कर अफवाह फैलाने के साथ ही माहौल को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। अफवाह भरे मैसेज अकारण ही जनता में असहज स्थिति उत्पन्न कर रहे हैं, जिससे अक्सर अफरातफरी भी मच जाती हैं।

जेल भेज सकता है बिना पुष्टि शेयर किया गया मैसेज

पोस्टर के माध्यम से फेक मैसेज को शेयर न करने की अपील

अंजली फ़िल्म प्रोडक्शन्स एवं सिटीसीएस फैमिली एनजीओ का संयुक्त प्रयास

लखनऊ। एक तरफ पूरा देश एकजुट होकर कोरोना महामारी से जंग लड़ रहा है। वहीं कुछ अराजकतत्व गलत सूचनाओं को सोशल मीडिया पर वायरल कर अफवाह फैलाने के साथ ही माहौल को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। अफवाह भरे मैसेज अकारण ही जनता में असहज स्थिति उत्पन्न कर रहे हैं, जिससे अक्सर अफरातफरी भी मच जाती हैं। यही नहीं अधिकांश लोग लापरवाही बरतते हुए बिना पुष्टि किये इस तरह के मैसेज व फ़ोटो को सोशल मीडिया पर शेयर व फॉरवर्ड कर देते है और उससे अक्सर कई मुसीबतों का सामना करना पड़ जाता है।

ऐसे फेक मैसेज के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से अंजली फिल्म प्रोडक्शन एवं सीटीसीएस फैमिली ने कोई भी संदिग्ध लगने वाला मैसेज शेयर और फॉरवर्ड ना करने के लिए पोस्टर अभियान की शुरुआत की है। जिसमें पोस्टर के माध्यम से यह बताने का प्रयास किया जा रहा है कि कोई भी ऐसा मैसेज जो पढ़ने में सही ना लग रहा हो उसे बिना पुष्टि किए हुए शेयर ना करें। सोशल मीडिया पर अफवाह भरा कोई भी मैसेज शेयर होता है तो उससे सामाजिक दिक्कतें तो होती ही हैं साथ में शेयर करने वाले को के ऊपर कानूनी कार्रवाई तक होती है। अंजली फ़िल्म प्रोडक्शन्स की हेड अंजली पांडेय ने बताया की कोरोना जैसे आपातकाल के दौरान स्थिति को नॉर्मल बनाए रखने के लिए अफवाह भरे मैसेज ना तो शेयर करें और ना ही किसी को शेयर करने दें और ना ही फॉरवर्ड करें।

व्हाट्सएप और फेसबुक का इस्तेमाल सावधानीपूर्वक करें क्योंकि आपकी थोड़ी सी गलती से किया गया अफवाह भरा मैसेज भी कई सारी मुसीबतें उत्पन्न कर देता है। सिटीसीएस के फाउंडर मनोज कुमार के आवाहन पर इसमें भाग लेने वालों ने सोशल मीडिया के माध्यम से ही फेक और अनर्गल मैसेज न शेयर करने की अपील की। अभियान में अंजली पांडेय ने स्वयं भी भाग लिया। इस पोस्टर जागरूकता अभियान में भाग लेने वालों को सिटीसीएस फैमिली की ओर से सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। गौरतलब है की फेक मैसेज शेयर करने वाले केखिलाफ आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज होता है। अतः व्हाट्सप फेसबुक पर कुछ भी बिना जाने एवं पुष्टि करें न शेयर करें। इस पोस्टर अभियान में मुख्य रूप से रोमा श्रीवास्तव, पूजा श्रीवास्तव, संजय जैन, ख्याति उपाध्याय, काजल पांडेय, चाइल्ड एक्टर दिव्यांश मिश्रा, अंशिका त्रिवेदी ने भाग लिया।