होम क्वारेन्टाइन हुये व्यक्तियों पर नजर रखने के लिये ग्राम निगरानी समितियां एवं अधिकारियों की टीमंे सक्रिय।

39
होम क्वारेन्टाइन हुये व्यक्तियों पर नजर रखने
  • कासगंज: कोरोना कोविड-19 महामारी से बचाव एवं रोकथाम हेतु लगातार प्रयास जारी हैं। वर्तमान में अन्य जनपदों/प्रांतों से जनपद कासगंज के प्रवासी श्रमिक/व्यक्ति जनपद में आ रहे हैं। जिन्हें स्वास्थ्य परीक्षण के बाद लक्षण रहित होने पर 21 दिन के लिये होम क्वारेन्टाइन किया जा रहा है। ऐसे व्यक्ति होम क्वारेन्टाइन का कड़ाई से पालन करना सुनिष्चित करें।

होम क्वारेन्टाइन हुये व्यक्तियों पर नजर रखने के लिये ग्राम निगरानी समितियां एवं अधिकारियों की टीमंे सक्रिय।

कासगंज: कोरोना कोविड-19 महामारी से बचाव एवं रोकथाम हेतु लगातार प्रयास जारी हैं। वर्तमान में अन्य जनपदों/प्रांतों से जनपद कासगंज के प्रवासी श्रमिक/व्यक्ति जनपद में आ रहे हैं। जिन्हें स्वास्थ्य परीक्षण के बाद लक्षण रहित होने पर 21 दिन के लिये होम क्वारेन्टाइन किया जा रहा है। ऐसे व्यक्ति होम क्वारेन्टाइन का कड़ाई से पालन करना सुनिष्चित करें।
जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाष सिंह के निर्देषानुसार एडीएम ए0के0 श्रीवास्तव द्वारा समस्त एसडीएम, सीओ तथा तहसीलदार, प्रभारी निरीक्षक एवं खण्ड विकास अधिकारी व सम्बन्धित थानाध्यक्ष की हर क्षेत्र में अलग अलग टीमें बनाई गई हैं जो प्रतिदिन 10 से 15 ग्राम पंचायतों का भ्रमण कर होम क्वारेंटाइन व्यक्तियों को चैक करेंगी। अगर कोई व्यक्ति होम क्वारेन्टाइन का उल्लंघन करेगा तो उसके विरूद्व तत्काल महामारी अधिनियम के अंतर्गत कड़ी कार्यवाही की जायेगी। टीमें निगरानी समितियों की गतिविधियों को भी चैक करते हुये सुनिष्चित करेंगी कि क्वारेन्टाइन हुये व्यक्तियों को खाद्यान्न समय से उपलब्ध हो और कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे। सभी व्यक्तियों को अपने मोबाइलों में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड कराने हेतु प्रेरित करेंगी।
ग्राम निगरानी समितियों को निर्देषित किया गया है कि प्रवासियों पर सतर्क नजर रखें। क्वारेन्टाइन हुये प्रवासी अपने घर के अलग कक्ष में रह कर मास्क, गमछे से मुंह ढके रहें। प्रवासी के घर में अन्य व्यक्ति का प्रवेष प्रतिबन्धित रहेगा। घर के एक व्यक्ति को बाहर आने जाने की अनुमति होगी। ऐसे परिवार नियमों का उल्लंघन न करें। गर्भवती महिलाओं, मधुमेह, उच्च रक्तचाप, हृदय रोगियों तथा बुजुर्गों को क्वारेन्टाइन हुये व्यक्ति से अलग रहने की सलाह दी जाये। आषा वर्कर ऐसे घरों में नियमित पहुंच कर परिवारजनों मंे खांसी, बुखार जैसे लक्षणों की जानकारी लेती रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here