कार्डधारकों को 01 जून से 11 जून तक वितरित किया जायेगा खाद्यान्न।

39
कार्डधारकों को 11 जून तक वितरित होगा खाद्यान्न
  • कासगंज: राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के अंतर्गत 01 जून से 11 जून 2020 तक कार्डधारकों को आवष्यक खाद्यान्न ई-पाॅष मषीन के द्वारा पर्ची उपलब्ध कराते हुये वितरित कराया जायेगा।
  • जिला पूर्ति अधिकारी सत्यवीर सिंह ने बताया कि अन्त्योदय कार्डधारकों को 20 किलो गेहंू एवं 15 किलो चावल निःषुल्क उपलब्ध कराया जायेगा।

कार्डधारकों को 01 जून से 11 जून तक वितरित किया जायेगा खाद्यान्न।

कासगंज: राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के अंतर्गत 01 जून से 11 जून 2020 तक कार्डधारकों को आवष्यक खाद्यान्न ई-पाॅष मषीन के द्वारा पर्ची उपलब्ध कराते हुये वितरित कराया जायेगा।
जिला पूर्ति अधिकारी सत्यवीर सिंह ने बताया कि अन्त्योदय कार्डधारकों को 20 किलो गेहंू एवं 15 किलो चावल निःषुल्क उपलब्ध कराया जायेगा।
पात्र गृहस्थी कार्डधारक जिनके पास मनरेगा योजना का सक्रिय जाॅबकार्ड श्रम विभाग के नवीनीकरण सहित पंजीकृत मजदूर एवं नगरीय क्षेत्रों के नगर पालिका द्वारा चयनित दिहाड़ी मजदूरों को 03 किलो गेहूं एवं 02 किलो चावल प्रति यूनिट आवष्यक अभिलेख प्रस्तुत करने पर निःषुल्क उपलब्ध कराया जायेगा। ग्रामीण क्षेत्रों के ऐसे कार्डधारक जिनके पास विद्युत एवं गैस कनेक्षन नहीं है, उन्हें मिट्टी का तेल 01 लीटर प्रति पात्र गृहस्थी राषनकार्ड पर तथा 03 लीटर प्रति अन्त्योदय राषनकार्ड पर देय होगा।
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत जनपद के समस्त कार्डधारकों को 01 कि0ग्रा0 चना प्रति राषनकार्ड निःषुल्क वितरित किया जायेगा। आत्म निर्भर भारत योजना के अंतर्गत प्रवासी मजदूरों के जारी किये गये राषनकार्डों पर प्रति यूनिट 03 किलो गेहूं, 02 किलो चावल तथा 01 किलो चना प्रति राषनकार्ड निःषुल्क उपलब्ध कराया जायेगा।
शेष पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को प्रति माह की भांति 05 कि0ग्रा0 प्रति यूनिट की दर से 3 कि0ग्रा0 गेहूं एवं 2 कि0ग्रा0 चावल क्रमषः 02 रू0 एवं 03 रू0 प्रति कि0ग्रा0 की दर से उपलब्ध कराया जायेगा।
खाद्यान्न वितरण के समय कार्डधारक सोषल डिस्टेंस बनाये रखें। फेस मास्क जरूर पहनें। साबुन से हाथ धोकर, सैनेटाइजर लगाकर ही ई-पाॅष मषीन पर अंगूठा लगायें। राषन डीलर टोकन सिस्टम से राषन वितरण करें, जिससे दुकानों पर भीड़ न लगे। कार्डधारक आवष्यक राषन प्राप्त कर लें। यदि कोई राषन डीलर देने से मना करे तो एसडीएम, जिला पूर्ति अधिकारी या क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी से षिकायत कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here