स्वास्थ्य विभाग की बैठक सम्पन्न। चिकित्सालयों को साफ सुथरा रखें। मास्क, सैनेटाइजर के साथ सोषल डिस्टेंस का पालन किया जाये-डीएम

51
स्वास्थ्य विभाग की बैठक सम्पन्न। चिकित्सालयों
  • कासगंज: जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाष सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में स्वास्थ्य विभाग की इन्फैक्षन प्रीवेषन कण्ट्रोल सर्विलेन्स सिस्टम, नियमित टीकाकरण,
  • संचारी रोग, क्षय रोग आदि के सम्बन्ध मंे बैठक समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें जिलाधिकारी द्वारा निर्देष दिये गये कि सभी अस्पतालों में साफ सफाई पर विषेष
  • ध्यान दिया जाये। हाथ धोने के लिये पानी, साबुन तथा हर टेबिल पर सेनेटाइजर की व्यवस्था रहे।

स्वास्थ्य विभाग की बैठक सम्पन्न।
चिकित्सालयों को साफ सुथरा रखें। मास्क, सैनेटाइजर के साथ सोषल डिस्टेंस का पालन किया जाये-डीएम
कासगंज: जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाष सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में स्वास्थ्य विभाग की इन्फैक्षन प्रीवेषन कण्ट्रोल सर्विलेन्स सिस्टम, नियमित टीकाकरण, संचारी रोग, क्षय रोग आदि के सम्बन्ध मंे बैठक समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें जिलाधिकारी द्वारा निर्देष दिये गये कि सभी अस्पतालों में साफ सफाई पर विषेष ध्यान दिया जाये। हाथ धोने के लिये पानी, साबुन तथा हर टेबिल पर सेनेटाइजर की व्यवस्था रहे। मास्क और ग्लब्स का अवष्य इस्तेमाल किया जाये। अधिकारी, अस्पतालों का नियमित निरीक्षण करते रहें।
जिलाधिकारी ने कहा कि वर्तमान में 01 जून से मलेरिया संक्रमण काल चल रहा है। बुखार के मरीजों को चिन्हित कर मलेरिया और कोविड-19 की जांच कराई जाये। अनलाॅक वन स्टार्ट होते ही अस्पतालों में इमरजेंसी सेवायें शुरू हो गई हैं। हाथ न मिलायें। पैर छूने से बचें। दो गज की दूरी बनाये रखें। सेनेटाइजर का प्रयोग करें। प्रभारी चिकित्साधिकारी खुद भी पालन करें और स्टाफ, नर्स, आषा और एएनएम आदि से भी इसका पालन करायें। कोरोना संदिग्ध महिलाओं की डिलीवरी किट पहन कर की जाये।
कोरोना वायरस से बचाव के नियमों का पालन करते हुये नियमित टीकाकरण का कार्य पूर्ण किया जाये। चिकित्सालयों के शौचालयों को साफ सुथरा रखें। इनमंे आवष्यक सुविधाओं का अभाव और गंदगी मिलने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम में ऐसे मरीज जिनको कोरोना जैसे लक्षण पाये गये हों, उनकी संयुक्त जिला चिकित्सालय में कोविड-19 की जांच कराई जाये।
बैठक मंे बताया गया कि चिकित्सकीय टीमें क्षेत्र में रैपिड रेस्पांस के रूप में कार्य कर रही हैं और बाहर से आने वाले लोगों की निरंतर थर्मल स्कैनिंग की जा रही है।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी तेज प्रताप मिश्र, मुख्य चिकित्साधिकारी प्रतिमा श्रीवास्तव, डा0 नरेन्द्र कुमार सहित समस्त प्रभारी चिकित्साधिकारी एवं सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।