15 जून से जनपद में अधिक से अधिक श्रमिकों को मनरेगा कार्यों में लगाकर रोजगार उपलब्ध कराया जाये-आयुक्त

32
15 जून से जनपद में अधिक से अधिक श्रमिकों को मनरेगा
15 जून से जनपद में अधिक से अधिक श्रमिकों को मनरेगा
  • अब तक जिले में 7791 प्रवासी श्रमिकों को दिया गया है मनरेगा कार्य, 15 जून से बड़ी संख्या मंे रोजगार देने की योजना।
  • कासगंज: आयुक्त अलीगढ़ मण्डल अलीगढ़ श्री जी0एस0प्रियदर्षी ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत प्रदेष स्तर पर 15 जून
  • 2020 को शासन द्वारा 15 लाख अतिरिक्त श्रमिक एक ही दिन में कार्यस्थलों पर योजित किये जाने का लक्ष्य है। जिसका शुभारंभ मुख्यमंत्री जी द्वारा किया जायेगा। .
  • जनपद मंे भी लक्ष्य पूर्ति के लिये भरपूर प्रयास किये जायें और अधिक से अधिक श्रमिकों को मनरेगा कार्यों में लगाकर रोजगार उपलब्ध करायें।

15 जून से जनपद में अधिक से अधिक श्रमिकों को मनरेगा कार्यों में लगाकर रोजगार उपलब्ध कराया जाये-आयुक्त
अब तक जिले में 7791 प्रवासी श्रमिकों को दिया गया है मनरेगा कार्य, 15 जून से बड़ी संख्या मंे रोजगार देने की योजना।

कासगंज: आयुक्त अलीगढ़ मण्डल अलीगढ़ श्री जी0एस0प्रियदर्षी ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत प्रदेष स्तर पर 15 जून 2020 को शासन द्वारा 15 लाख अतिरिक्त श्रमिक एक ही दिन में कार्यस्थलों पर योजित किये जाने का लक्ष्य है। जिसका शुभारंभ मुख्यमंत्री जी द्वारा किया जायेगा। जनपद मंे भी लक्ष्य पूर्ति के लिये भरपूर प्रयास किये जायें और अधिक से अधिक श्रमिकों को मनरेगा कार्यों में लगाकर रोजगार उपलब्ध करायें।
जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाष सिंह ने बताया कि जिले में मनरेगा कार्यों में योजित 28435 श्रमिकों के अतिरिक्त 16227 और श्रमिकों को मनरेगा कार्यों में लगाया जायेगा। कुल 44,662 श्रमिकों को योजित करने का लक्ष्य जिले के सभी विकासखण्डों को आवंटित कर कार्य कराया जा रहा है। शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष रणनीति बनाकर लगातार प्रगति की जा रही है और शतप्रतिषत लक्ष्य प्राप्त किया जायेगा।
मुख्य विकास अधिकारी तेज प्रताप मिश्र ने बताया कि जिले की 423 ग्राम पंचायतों में कुल 15859 प्रवासी श्रमिकों का आगमन हुआ है। वर्तमान में प्रवासी श्रमिकों से आच्छादित 418 ग्राम पंचायतों में मनरेगा कार्य चल रहा है, 4483 प्रवासी श्रमिकों के नवीन जाॅबकार्ड बनाये गये हैं, 3932 श्रमिकों को पूर्व में निर्गत जाॅबकार्डों में जोड़ा गया है। वर्तमान में 7791 प्रवासी श्रमिकों से मनरेगा कार्य कराया जा रहा है। इसी प्रकार 7368 गैर प्रवासी श्रमिकों को पूर्व में निर्गत जाॅबकार्डों से जोड़कर मनरेगा कार्य कराया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here