कोरोना संक्रमण के रहते घर घर पोषाहार पहुंचा रही आंगनवाड़ी

138
कोरोना संक्रमण के रहते घर घर पोषाहार पहुंचा रही आंगनवाड़ी
कोरोना संक्रमण के रहते घर घर पोषाहार पहुंचा रही आंगनवाड़ी

कोरोना संक्रमण के रहते घर घर पोषाहार पहुंचा रही आंगनवाड़ी

कोरोना संक्रमण के रहते घर घर पोषाहार पहुंचा रही आंगवाड़ी

जिला कार्यक्रम अधिकारी अजय सिंह ने बताया की कोरोना वायरस को लेकर लोग डरे हुए है तो वहीँ आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता इस महामारी से लड़ने के लिए अपने स्वास्थ्य की परवाह न करते हुए गर्भवती एवं धात्री महिलाओ एवं 7 माह से 6 वर्ष के बच्चों के पोषण को नियमित रखने मे महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है !प्रत्येक लाभार्थी के घर घर पोषाहार पहुंचने मे जुट गई है प्रत्येक माह आंगनवाड़ी कार्यकर्ती को जनपद स्तर से पोषाहार के डोर टू डोर वितरण के लिए दिनांक निर्धारित की जाती है निर्धारित दिनांक को केंद्रों के लाभार्थियों को डोर टू डोर का वितरण कार्यकर्ती द्वारा घर घर जाकर किया जा रहा है पोषाहार वितरण के दौरान आंगनवाड़ी कार्यकर्ती द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के नियमों का पूर्ण रूप से पालन किया जाता है ! पोषाहार के वितरण का मुख्य उदेश्य ग़र्भवती व धात्री महिलाओ के साथ साथ 6माह से लेकर 6वर्ष तक के बच्चों को शारीरिक मजबूत बनाए रखना है! गर्भवती व धात्री महिलाओ को मीठा दलिया नमकीन दलिया एबं लड्डू प्रि मिक्स के 01-01पैकेट 07माह से 3वर्ष के बच्चों को विनिंग फूड मीठा दलिया नमकीन दलिया के 01-01 पैकेट एवं 03से 06वर्ष के बच्चों को 50 ग्राम प्रतिदिन की दर से प्रति माह उपलब्ध कराया जा रहा है ! जिला कार्यक्रम अधिकारी (डी पी ओ )अजय सिंह ने बताया कि पोषाहार पहुंचाने के साथ साथ सामाजिक दूरी, मास्क, साफ सफाई की जानकारी भी समुदाय मे आंगनवाड़ी कार्यकर्ती द्वारा दी जा रही है !धात्री माताओं को जानकारी दे रही है की यदि बच्चा बीमार है तो उसका स्तनपान कराना ना छोड़े, स्तनपान कराती रहे जिससे बच्चे की रोग प्रतिरोधक छमता बनी रहे! बाहर से आने पर खाना खाने या खिलाने से पहले हाथों को पानी और साबुन से अच्छी तरह साफ करें! यदि माँ बीमार है तो स्तनपान जारी रखें ! भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें, ज़रूरी हो तब ही घर से मास्क पहन कर बाहर निकलें!

जनपद में कुल 2249 आंगनवाड़ी है जबकि जनपद में गर्भवती और धात्री महिलाओं की संख्या 35, 265,
3 से 6 वर्ष के बच्चे 40,789 की संख्या में है और 07 माह से 3 वर्ष के बच्चे 77,320 की संख्या में मौजूद है, यही नहीं इस महीने 21व 22 अगस्त को पोषाहार वितरण भी हुआ है